नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर में उमड़ी भीड़

0
nishul shivir

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के गोरयाकोठी प्रखंड के ग्राम सिसई निवासी हड्डी रोग विशेषज्ञ स्व. डॉ. जनकदेव प्रसाद सिंह की जयंती पर सिसई में रविवार को नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। शिविर की आयोजन निरामया हॉस्पीटल पटना व जनक दुलारी हॉस्पीटल पटना के सौजन्य से किया गया। उद्घाटन विधान पार्षद रामवचन राय ने स्व. डॉ.जनक देव प्रसाद सिंह के फोटो पर पुष्प अर्पित कर किया। उन्होंने कहा कि जनकदेव बाबू सिसई की धरती के महान विभूति व सिर्फ चिकित्सक ही नहीं थे। वे लोगों के लिए जीवन पर्यंत स्वास्थ्य सेवा बहाल करने में लगे रहे। उनके सिद्धांतों पर चलकर समाज को एक स्वस्थ समाज बनाया जा सकता है। डॉ सुरेंद्र राय ने कहा कि सिसई में एक लाइब्रेरी व संस्कार केंद्र बनाने की आवश्यकता है। उसके लिए उन्होंने सहयोग देने कि घोषणा की। डॉ. जनकदेव सिंह की पत्नी डॉ. शीला शर्मा पटना की एक सुप्रसिद्ध स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ हैं। उन्होंने कहा कि सिसई ही नहीं पूरे गोरेयाकोठी क्षेत्र के लोगों के लिए यह स्वास्थ्य चेकअप कैंप लगाया गया है। अगले महीने से मासिक हेल्थ चेकअप कैंप का आयोजन कराया जाएगा। बताया कि स्व. जनकदेव बाबू का लगाव इस क्षेत्र के लोगों से काफी रहा है। वह जब भी गांव आते थे। लोगों का स्वास्थ्य चेकअप करते थे। उसी कड़ी में स्वास्थ्य सेवा बहाल करने का निर्णय लिया गया है। उसी के तहत इस शिविर का आयोजन किया गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

कैम्प से लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा

मुख्य अतिथि भाजपा नेता देवेशकांत सिंह ने कहा कि इस तरह के कैम्प से लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलेगी। शिविर में स्व. जनकदेव बाबू के बड़े पुत्र लखनऊ केजीएमयू के प्रोफेसर एवं गुर्दा रोग विशेषज्ञ डॉ. राहुल जनक सिन्हा व बहू केजीएमसी लखनऊ की प्रसिद्ध स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. सीमा मेहरोत्रा, वहीं उनके छोटे पुत्र रामदुलारी अस्पताल के संचालक एवं फिजीशियन हैं। सभी ने स्वास्थ्य जांच की। शिविर में विभिन्न विभाग के पटना व लखनऊ के विशेषज्ञ चिकित्सकों ने स्वास्थ्य की जांच की। मुफ्त दवा का वितरण भी किया गया। चिकित्सकों में अमियंता सिहं, डॉ. पंकज कुमार कश्यप, डॉ. राहुल जनक सिंह, डॉ. आलोक, डॉ सुरेंद्र राय, डॉ. शशिभूषण उपाध्याय, डॉ. सुबोध कुमार, डॉ. शांतनु, विशाल राय, सुधाकर राय, राजेंद्र सिंह थे। मौके पर राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त डॉ. सुशीला पांडेय, जलेश्वर सिंह, देवेंद्र पांडेय, योगेंद्र सिंह, शिबू सिंह, शंकर पांडेय, अमोद कुमार प्रियदर्शी, डॉ. राजीव रंजन, डॉ. राहुल, प्रमोद कुमार, सोनू कुमार सिंह, राजेंद्र सिंह व अभिषेक कुमार सिंह थे।