जरूरतमंदों के लिए एडीएम एवं आपदा पदाधिकारी से मिला प्रतिनिधिमंडल

0
sdm

29 वें दिन राहत वितरण का अभियान जारी

परवेज अख्तर/सिवान:- लगभग एक महीने से जरूरतमंदों को अनाज पहुँचा रहे एआईएसएफ, अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं की टीम ने जिला प्रशासन से मुलाकात कर उनके स्तर से चलाए जा रहे अभियान की जानकारी माँगी। कार्यालय में जिलाधिकारी की गैर मौजूदगी में प्रतिनिधिमंडल ने अपर समाहर्ता(एडीएम) रमण कुमार सिन्हा एवं आपदा पदाधिकारी संजय कुमार से मुलाकात किया।

एडीएम ने कहा कि जिला स्तर पर आपदा पदाधिकारी जबकि प्रखंड स्तर पर अंचल पदाधिकारी जरूरतमंदों के लिए समन्वय कर रहे हैं। एडीएम से वार्ता के क्रम में प्रतिनिधिमंडल ने कल ब्रह्मस्थान में एक परिवार के द्वारा भुखमरी की वजह से आत्महत्या के प्रयास के मसले का जिक्र करते हुए प्रशासन को अलर्ट रहने का आग्रह किया। जबकि आपदा पदाधिकारी ने बताया कि जिला प्रशासन रोज 550 भोजन का पैकेट वितरित कर रहा है। जरूरतमंदों के भोजन के लिए वीएम हाई स्कूल परिसर में भी रहने-खाने का इंतजाम है। कोई खाकर घर भी जा सकता है। प्रतिनिधिमंडल में डॉ. के. एहतेशाम अहमद एवं एआईएसएफ के राष्ट्रीय सचिव सुशील कुमार शामिल थे।

वहीं ऑल इण्डिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (AISF) के छात्रों, अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ से जुड़े शिक्षकों एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं की टीम ने फूड फॉर हंगर एवं कोरोना से जंग अभियान के तहत चावल, दाल, सरसो का तेल, आलू, प्याज का पैकेट घर-घर पहुंचा रहे हैं। आज 29वें दिन टीम सिवान शहर के नया किला, कंधवारा,दखिन टोला, आनंद नगर पहुँची।

अभियान में शामिल एआईएसएफ के जिला संयोजक शशि कुमार ने कहा कि जरूरतमंदों का पता चलने पर हमलोगों की टीम घर-घर अनाज पहुँचा रही है। कोरोना से जंग में जिले में कोई भी भूखा नहीं रहे इसको लेकर हमलोग की टीम पूरी प्रतिबद्धता से काम कर रही है। अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ के जिला सह सचिव इरफान अली ने कहा कि महामारी एवं भुखमरी के खिलाफ जंग छेड़ चुके साथियो के ऊपर बनी डॉक्यूमेंट्री की दूसरी सीरीज कल देर रात रिलीज हुई है।इस अभियान की पहुँच हर जरूरतमंद तक होगी।

अभियान में अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ के जिला सचिव अशोक कुमार प्रसाद,शिक्षक नेता अशोक साह,सामाजिक कार्यकर्ता अफरोज अहमद,एआईएसएफ नेता नीरज यादव, रिजवान,रजनीश सिंह, इमरान अली,मो. फिरोज, उमा चौरसिया ने अलग- अलग टीमों में राहत सामग्री वितरित किया।