दोहा कतर से सिवान ढाई महीने बाद पहुंचा युवक का शव

0
doha katar se shav

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के मैरवा थाना क्षेत्र के लंगड़पुरा के एक युवक की मौत दोहा कतर में हो गई थी। करीब ढाई महीने बाद उसका शव गांव पहुंचा. शव पहुंचते ही स्वजनों में कोहराम मच गया। आसपास के ग्रामीण स्वजनों को ढांढ़स बंधा रहे थे. बतादें कि पंकज तिवारी परिवार की आर्थिक तंगी दूर करने के लिए दोहा कतर के मैट्रिक्स ट्रेडिग एंड कंस्ट्रक्शन कंपनी में मजदूरी करने सितंबर 2018 में गया था.

विज्ञापन
aliahmad
vigyapann
vig
web designing

उसकी मौत 13 अप्रैल को हो गई थी. मृतक की पत्नी माधुरी देवी समेत अन्य स्वजन उसका अंतिम दर्शन के लिए इच्छुक थे. मृतक की पत्नी ने पति का शव दोहा कतर से लाने के लिए प्रधानमंत्री, विदेश मंत्री, मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर गुहार लगाई थी. मृतक के स्वजन कागजी प्रक्रिया पूरी करने में लग गए थे. पर शव वहां से नहीं भेजने पर स्वजन चितित थे. लॉकडाउन के कारण शव लाने में विलंब हुआ. शव आने के इंतजार में सभी की आंखें पथरा गई थीं.

शुक्रवार की रात शव पहुंचते ही सभी की आंखों में आंसू छलक आए. स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया. आसपास के ग्रामीण स्वजनों को ढांढ़स बंधा रहे थे. स्वजनों ने कुछ ही देर में शव का अंतिम दाह संस्कार कर दिया. मृतक की तीन बेटियां हैं. उनकी परवरिश की चिता अब मृतक की पत्नी को सता रही है.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here