प्लास्टिक मुक्त शहर बनाने में सबकी भागीदारी आवश्यक : ईओ

0
plastic

परवेज अख्तर/सिवान : नगर क्षेत्र को प्लास्टिक मुक्त करने हेतु नगर परिषद के तत्वावधान में सोमवार को शहर के प्रमुख होटलों, रेस्तरां व मॉल के संचालकों/मालिकों के साथ कार्यशाला का आयोजन किया गया। नप सभागार में आयोजित कार्यशाला का उद्घाटन नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी बसंत कुमार, उपसभापति बबलू प्रसाद, पूर्व पार्षद धनंजय सिंह एवं परफेक्ट विजन के सचिव मनोज मिश्र ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया। उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कार्यपालक पदाधिकारी ने कहा कि यह शहर हम सबका अपना है। इसे स्वच्छ, सुंदर एवं प्रदूषण मुक्त बनाना हम सबकी साझी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि हाल के वर्षों में प्लास्टिक मानव, जलीय जीवों, पशुओं सहित पृथ्वी के अस्तित्व लिए सबसे बड़ा खतरा बनकर उभरा है। उन्होंने प्रतिभागियों को प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन नियमावली 2016 के प्रावधानों एवं उसके अनुपालन किए जाने की आवश्यकता पर विस्तार से प्रकाश डाला। परफेक्ट विजन के सचिव मनोज मिश्र ने सुप्रीम कोर्ट के टिप्पणी का उल्लेख करते हुए कहा कि यह परमाणु बम से भी ज्यादा खतरनाक है। सचिव मिश्र ने कहा कि यह जल, भूमि एवं वायु को विषैला बनाकर पर्यावरण को अपूरणीय क्षति पहुंचा रहा है। उन्होंने कहा कि इस मानवकृत आपदा से बचाव एवं आने वाली पीढ़ी को खुशहाल धरती एवं स्वच्छ वातावरण सौंपने के लिए हमें आज से ही प्लास्टिक को ना कहने का संकल्प लेना होगा। उपसभापति बबलू प्रसाद ने कहा कि नगर परिषद शीघ्र ही शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए व्यापक जन जागरूकता कार्यक्रम चलाएगा एवं दो अक्टूबर से शहर में 50 माइक्रोन का प्लास्टिक प्रतिबंधित करने का कानून बनाएगा। पूर्व पार्षद धनंजय सिंह ने सभी होटल, रेस्तरां एवं मॉल संचालकों को अपने-अपने प्रतिष्ठान में आज से ही प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने का संकल्प दिलाया। कार्यक्रम के दौरान प्लास्टिक से होने वाले नुकसान से संबंधित एवं प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन नियमावली 2016 के विहित प्रावधानों से संबंधीत ब्रोशर वितरित किए गए। कार्यक्रम में वी मार्ट के उदय सिंह, होटल सत्यम के प्रवीन कुमार, होटल क्राउन के परवेज आलम, होटल डी इलू के प्रमोद कुमार,व्यंजन रेस्तरां, क्लार्क इन, होटल आशीर्वाद सहित नगर के विभिन्न प्रतिष्ठानों के लगभग 70 संचालकों ने भाग लिया।