कृषि चौपाल में किसानों ने सरकारी मंडी एवं चकबंदी पर दिया जोर

0
Krishi

परवेज अख्तर/सिवान : सदर प्रखंड मुखयालय स्थित ई-किसान भवन पर कृषि कल्याण चौपाल का आयोजन सूचना सलाहकार केन्द्र के प्रखंड अध्यक्ष रवि शंकर सिंह की अध्यक्षता में हुआ। चौपाल का शुरुआत प्रखंड कृषि पदाधिकारी प्रभुनाथ मांझी एवं मुखिया गोपाल प्रसाद ने संयुक्त रूप से किया। कृषि कल्याण चौपाल में किसानों का आय 2022 तक दोगुनी करने के तरीके बताएं गए। आत्मा के उप निदेशक केके चौधरी ने राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार के योजनाओं की जानकारी दी एवं बचत के गुण बताए।पुसा विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक डा बीके गोड़ ने पशुपालन से संबंधित सुझाव दिया एवं आय के तरीके बताएं। मृदा विज्ञान के वैज्ञानिक डा बृजेश कुमार ने मिट्टी जाँच व उनके तत्वो पर प्रकाश डाला एवं जैविक खेती करने को कहा। प्रखंड कृषि पदाधिकारी ने पंचायतों से आए किसानो की बातें सुनी एवं प्रस्ताव को विभाग के अधिकारी से मार्गदर्शन हेतु भेजने की बात कही। सलाहकार नवीन पांडेय ने नकदी खेती के साथ समकेतीक कृषि को अपनाने के लिए किसानों को कहा। किसान रामचन्द्र सिंह ने उत्पादन के मिलने के बाद सरकारी मंडी की जरूरत पर सवाल उठाया एवं कहा इस प्रखंड में इसकी व्यवस्था जल्द हो जहाँ सब्जी, अनाज, फल सहित अन्य उत्पाद जल्द से जल्द निपट सके। वहीं किसान नेता रतनेशवर सिंह ने कहा कि चकबंदी अगर हो जाए तो बहुत बड़ा फायदा होगा। एक जगह खेती से आर्थिक एवं समय का बचत होगा। पंचायतों में दियरा क्षेत्र होने एवं पशुपालन के हिसाब से एक-एक अस्पताल की मांग रखी। मौके पर आनन्द मोहन वर्मा, कृषि समन्वयक डा शंकर शर्मा, अगस्त प्रकाश सिंह, धर्मेन्द्र गुप्ता, अरूण कुमार सहित पंचायतों से आए किसान मौजूद थे।[sg_popup id=”5″ event=”onload”][/sg_popup]

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal