चलती ट्रेन में गोलीबारी…. झाझा पटना मेमू ट्रेन में यात्रियों पर ताबड़तोड़ फायरिंग…दो महिला सहित तीन को लगी गोली….

0

पटना: बेख़ौफ़ अपराधियों ने सोमवार को चलती ट्रेन में एक व्यक्ति को निशाना बनाकर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. पटना आ रही झाझा-पटना मेमू ट्रेन जब खुसरुपुर स्टेशन पहुंचने वाली थी तभी अचानक ट्रेन में सवार कुछ युवकों ने एक व्यक्ति को निशाना बनाकर गोलियां बरसानी शुरू कर दी. गोली दो महिलाओं सहित तीन लोगों को लगी. वहीं हमलावर गोली चलाने के बाद तुरंत खुसरूपुर में ट्रेन की रफ्तार कम होते ही उतरकर फरार हो गए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

स्थानीय सूत्रों के अनुसार सालिमपुर थाना के सम्म्तपुर निवासी नरेश सिंह के पुत्र सुनील प्रसाद(45) को निशाना बनाकर गोली चलाई गई थी. सुनील को कमर के पास दो गोलियां लगी हैं जबकि दोनों महिलाओं को भी एक एक गोली लगी है. कुछ महीने पूर्व भी सुनील के एक परिजन भूषण की हत्या हुई थी।

घटना के बाद जीआरपी प्रभारी सूर्यदयाल सिंह ने स्टेशन पर घटनास्थल का जायजा किया. घायलों को पहले स्थानीय पीएचसी में और बाद में पटना रेफर किया गया है. घायल का किसी से पुराना विवाद बताया जा रहा है जिस कारण घात लगाकर अपराधियों ने ट्रेन में गोलीबारी की. हमलावर एक से दो स्टेशन पहले ही ट्रेन में सवार हुए थे।

वहीँ ट्रेन में गोली चलने और एक साथ तीन लोगों के घायल होने से कुछ समय के लिए ट्रेन में अफरातफरी मच गई. यात्रा कर रहे यात्रियों में भगदड़ सी स्थिति मच गई. बाद में घायलों को वहां से अस्पताल के लिए ले जाया गया. वहीं कुछ समय बाद ट्रेन को आगे के लिए रवाना कर दिया गया।

गोलीबारी की इस घटना में सालिमपुर थाना क्षेत्र के सम्मतपुर निवासी रामनरेश सिंह के पुत्र सुनील प्रसाद को कमर के नीचे दो गोली लगी है। बताया जाता है कि सुनील को मारने के लिए चलाई गई गोली आस पास बैठी दो महिलाओं को भी लग गई। महिला की पहचान वैशाली जिला के चुरामन पुर थाना क्षेत्र के मोहनपुर निवासी प्रमोद दास की पत्नी ललिता देवी व सालिमपुर थाना क्षेत्र के हिदायतपुर निवासी देवकी साव की पत्नी दरपनिया देवी के रूप में हुई है। घायलों के परिजनों ने बताया कि 3 माह पूर्व जमीन विवाद में भूषण यादव की हत्या हो गई थी। हत्या के आरोपियों ने हमला किया है।