आॅटो चालकों की हड़ताल समाप्त, अवैध वसूली करते चार गिरफ्तार

0
giraftar

परवेज़ अख्तर/​सिवान:- पिछले तीन दिनों से चल रहे आॅटो चालकों की हड़ताल शुक्रवार की देर शाम जिला प्रशासन और आॅटो चालक संघ के बीच हुई वार्ता के बाद समाप्त हो गया। बैठक में एसडीओ अमन समीर, एएसपी कांतेश मिश्रा,टेंपो चालक संघ के अध्यक्ष गणेश राम, महासचिव गुड्डू कमार सहित कई चालक मौजूद थे। बैठक में निर्णय लिया गया कि शहर में अब अवैध रूप से ठेकेदार द्वारा अवैध वसूली करने पर कार्रवाई की जाएगी। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि ठेकेदार द्वारा जो छोटे आॅटो से पूर्व में निर्धारित 20 रुपया लिया जाता था अब वहां 15 रुपया लिया जाएगा। वहीं बड़े आॅटो से पहले 30 रुपया लिया जाता था अब वहां 20 रुपया लिया जाएगा। साथ ही नगर पालिका द्वारा सालाना 130 रुपया लिया जाता था वहां अब 100 रुपया लेने का आदेश जारी कर दिया गया। एसडीओ अमन समीर ने बताया कि इसके बाद सालाना टैक्स लेने के लिए एक स्थान पर नप द्वारा कैंप लगाया जाएगा और सात दिनों तक वहां आॅटो चालकों से चालान काटा जाएगा। मजहरुल हक, सिसवन, राजेंद्र पार्क के पास अवैध वूसली की रोकथाम की जाएगी। दारोगा राय कॉलेज और गोपालगंज रोड पर अवैध वसूली करते चार लोगों को गिरफ्तार किया गया। इनके पास से रसीद भी मिली है। इसके बाद बड़हरिया और मैरवा स्टैंड जिला परिषद के अधीन आता है इसके लिए डीडीसी से आग्रह किया गया है कि वे अवैध वसूली की रोकथाम कराएं। इसके बाद यूपी से आने वाली गाड़ियों की वसूली पर रोकथाम होगी जबकि आॅटो चालकों को स्टैंड में ही गाड़ी खड़ी करनी है। इसके बाद रेलवे जंक्शन पर खड़े होने वाले आॅटो से अंदर ही टैक्स वसूलना है। एसडीओ ने बताया कि आॅटो चालकों पर नकेल कसने के लिए क्षमता के अनुसार ही सवारी को बैठाने का निर्देश दिया गया। इसके तहत अब पीछे तीन ही पैसेंजर को बैठाना है। ऐसा नहीं करने पर कार्रवाई होगी। इसके बाद मुफ्फसिल थाना और बिजली विभाग के पास बने आॅटो स्टैंड में ही गाड़ी लगाना है। सभी स्टैंड में नगर पालिका रेट सूची का बोर्ड लगाएगा। बैठक में यहां निर्णय लिया गया कि अगर ठेकेदार पैसे ज्यादा लेता है या रंगदारी करता है तो उसपर अधिकारी द्वारा कार्रवाई होगी। [sg_popup id=”5″ event=”onload”][/sg_popup]

Loading...