गोपालगंज: 2 अक्टूबर को चलेगा कोविड टीकाकरण महा-अभियान, तीसरी लहर से बचायेगी वैक्सीन

0
  • टीकाकरण के लक्ष्य को शत-प्रतिशत हासिल करने के लिए विभाग प्रतिबद्ध
  • जिला स्तर पर शुरू की गयी महा अभियान की तैयारी
  • दूसरे डोज के वंचित लाभार्थियों पर रहेगी विशेष नजर

गोपालगंज: जिले में कोरोना संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। 18 वर्ष से अधिक उम्र के प्रत्येक व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा रहा है। चरणवार महाअभियान आयोजित कर टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने का प्रयास विभाग के द्वारा किया जा रहा है। इसी कड़ी में जिले में एक बार फिर 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर महा अभियान चलाकर टीकाकरण किया जायेगा। इसको लेकर विभागीय स्तर पर तैयारी शुरू कर दी गयी है। कोविड वैक्सीनेशन मेगा कैंपेन के दिन जिला भर के सभी सेशन साइट पर लोगों को वैक्सीन की पहली और दूसरी दोनों डोज लगायी जाएगी। सिविल सर्जन डॉ. योगेंद्र महतो ने कहा कि तीसरी लहर से बचाव के लिए टीकाकरण आवश्यक है। पहली लहर से दूसरी लहर खतरनाक थी। लेकिन तीसरी लहर के बारे में अभी कुछ पता नहीं है। लेकिन खुद और अपने बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए सभी लोग आगे आये और महाअभियान का साक्षी बनकर अपना टीकाकरण कराएं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण हीं एक मात्र उपाय

सीएस डॉ योगेंद्र महतो ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण हीं एक मात्र उपाय है। जिले के सभी लोगों को जल्द से जल्द कोरोना का टीका लग जाए, इसे लेकर जिला स्वास्थ्य समिति गंभीर है। जिले में सभी दिन टीकाकरण तो चल ही रहा है, साथ में बीच-बीच में लगातार महाअभियान भी चल रहा है। इसलिए जिले के वैसे लोग जिन्होंने अभी तक कोरोना का टीका नहीं लिया है, वह अपने नजदीकी केंद्रों पर जाकर टीका ले लें।

निश्चित समय पर दूसरा डोज आवश्य लें

डीआईओ डॉ. शक्ति कुमार सिंह ने कहा कि जिनका दूसरा डोज लेने का समय पूरा हो गया है, वह निश्चित तौर पर समय सीमा के अंदर दूसरा डोज ले लें। कोरोना से बचने के लिए टीका लेना बहुत ही जरूरी है। इसलिए टीका लेने में किसी तरह की लापरवाही नहीं करें। साथ ही टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं होगा, इसलिए टीका लेने में किसी तरह का संकोच नहीं करें।

दोनों डोज लगवाने के बाद भी बरतें सावधानी

कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद कोरोना संक्रमण की आशंका बहुत ही कम होती है। बावजूद इसके हमे पूरी सावधानी और सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। लोगों को अभी भी कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरीके से पालन करना करना चाहिए। घर से बाहर निकलने पर हमेशा अपने नाक और मुंह को ढकने के लिए मास्क , रुमाल, गमछा का इस्तेमाल करना आवश्यक है। महिलाएं इसके लिए दुपट्टा या साड़ी के पल्लू का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके साथ ही शारीरिक दूरी के नियम के तहत सभी लोगों को एक- दूसरे से कम से कम दो गज या छह फीट की दूरी बरतनी चाहिए। इसके अलावा कुछ भी छूने की स्थिति में साबुन या हैंड सैनिटाइजर से अपने हाथों को साफ करना चाहिए ।