जिम ट्रेनर गोलीकांडः जबरिया रहना चाहती थी डॉक्टर पत्नी, दोनों की तस्वीरें आईं सामने

0

पटना: जिम ट्रेनर विक्रम सिंह को गोली मारने के मामले में पुलिस ने पटना के फेमस फिजियोथेरेपिस्ट राजीव कुमार सिंह और उनकी पत्नी खुशबू सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। विक्रम सिंह ने खुशबू पर गोली मरवाने का आरोप लगाया था। विक्रम भी खुशबू के करीब आया था। दोनों की तस्वीरें भी सामने आई हैं। पुलिस को दिए बयान में विक्रम ने दावा किया है कि उसे जान से मारने की कोशिश खुशबू सिंह और उनके पति फिजियोथेरेपिस्ट डॉ. राजीव सिंह ने की है। विक्रम के गंभीर आरोपों को पुलिस ने जांच में सही माना। इसके बाद मिले सबूत और क्लू के आधार पर डॉक्टर दंपती को गिरफ्तार कर लिया गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

पुलिस की जांच में पता चला कि राजीव कुमार सिंह ने एक कुख्यात अपराधी को कॉन्टैक्ट किया। जिम ट्रेनर को जान से मारने के लिए उसने 3 लाख रुपए का कॉन्ट्रैक्ट (सुपारी) दिया था। फिर उस कुख्यात ने बेगूसराय के रहने वाले अमित नाम के एक अपराधी को पेटी कॉन्ट्रैक्ट दिया, जो कदमकुआं में किराए के मकान में रहता है।

सूत्र बताते हैं कि अमित ने अपने दोस्त सरफराज, रोहित और दो साथियों का इस वारदात को अंजाम देने में इस्तेमाल किया। विक्रम की हत्या करने के उद्देश्य से शनिवार को उसके ऊपर सुबह-सुबह गोली बरसाई। इस मामले में पुलिस ने कुछ अपराधियों को भी अपने कब्जे में ले रखा है। पुलिस की तरफ से अभी पूरा खुलासा किया जाना बाकी है।

डॉक्टर की पत्नी जबरदस्ती करती थी

जिम ट्रेनर ने पुलिस को बताया कि हम डॉ. राजीव सिंह को जिम सिखाने जाते थे। वहां मैम से बातचीत शुरू हो गई। मुझे कुछ ठीक नहीं लगा तो कुछ समय बाद ही हम उनके पास से हटना चाहते थे। हटना चाहा तो मुझे वह ब्लैकमेल करने लगी। कभी सुसाइड कर लेंगे तो कभी कुछ। धीरे-धीरे हम हटते चले गए। कहा कि वह मेरे साथ जबरदस्ती रिलेशन में रहना चाहती थी। मैं ऐसा नहीं चाहता था।

मुझे तरह-तरह से हमें ब्लैकमेल किया। ये कहा कि घर पर जाकर हम हंगामा कर देंगे। हम उनके साथ डर के कारण रहे। हम हटने लगे तो हंगामा किया। जिम में आकर एक-एक महीना बैठीं। कई बार हम घर छोड़कर भाग जाते थे। नंबर बदल देते थे, नया-नया नंबर लेते थे। स्टूडेंट्स के सामने भी कई बार हंगामा कर चुकी थी। उन्होंने फेक आईडी बनाकर सोशल मीडिया पर तीन महीने तक टॉर्चर किया। जिस दौरान खुशबू मुझे परेशान कर रही थी मैंने राजीव सर को दो बार कॉल किया था। मैंने उन्हें बताया था कि सर मैम मुझे परेशान कर रही हैं। उन्होंने कहा था कि प्रूफ लेकर आओ तो फिर देखते हैं। उसे सलटा देंगे।

ट्रेनर और डॉक्टर पत्नी के बीच 1100 से ज्यादा कॉल

पटना पुलिस ने इस मामले की जांच करते हुए घायल जिम ट्रेनर का मोबाइल जब्त कर लिया है। इसके बाद पुलिस ने कॉल डिटेल्स को खंगाला। SSP उपेंद्र कुमार शर्मा के अनुसार खुशबू और विक्रम के बीच इस साल के जनवरी से लेकर अब तक 1100 बार बात हुई है। इन दोनों के बीच लेट नाइट में भी कॉल पर बात हुई है। अधिकांश कॉल 30 से 40 मिनट के हैं। शुरुआती जांच में पुलिस को इस बात के भी सबूत मिले हैं कि इस साल 18 अप्रैल को पहली बार डॉ. राजीव ने कॉल कर विक्रम से सीधे तौर पर बात की थी। उसी दरम्यान उन्होंने उसे जान से मारने की धमकी दी थी। पूछताछ के दौरान बार-बार डॉक्टर और उनकी पत्नी अपना बयान बदल रहे हैं।