प्रेम प्रसंग में दोस्तों ने ही युवक की हत्या कर शव को रेल ट्रैक के बगल में फेंका

0

पटना: बक्सर-चौसा रेलखंड के कमरपुर हाल्ट के समीप शुक्रवार ( 27 फरवरी) को रेल ट्रैक के पास बरामद शव के रहस्य से पुलिस ने पर्दा उठा दिया है। प्रेम प्रसंग में युवक के दोस्तों ने ही उसकी हत्या कर शव को रेल ट्रैक के बगल में फेंक दिया था। इस मामले में हिरासत में लिए गए युवक से पूछताछ के बाद रहस्य से पूरी तरह पर्दा उठ चुका है। हत्या में शामिल दो अन्य की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी में लगी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

कई दिन पहले रची थी हत्‍या की साजिश

मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के पवनी पंचायत अंतर्गत ढूढ़नी गांव निवासी प्रकाश राम की हत्या उसके अपने ही तीन दोस्तों राहुल, जितेंद्र और ऋषिकेश ने मिलकर की थी। प्रकाश के हत्या की साजिश कई दिन पहले ही रची जा चुकी थी, और तीन दोस्तों में किसकी क्या भूमिका रहेगी , कैसे हत्या की जाएगी और हत्या के बाद शव को कहां खपाया जाएगा सब कुछ पहले ही तीनों ने तय कर लिया था। तब उन्हें अपनी योजना फुलप्रूफ नजर आ रही थी और हत्या के राज से पर्दा उठने की उन्हें दूर-दूर तक कोई संभावना नहीं नजर आ रही थी। शव को उन्होंने ट्रैक के पास इसीलिए फेंका था, जिससे लगे कि ट्रेन की चपेट में आकर मौत हुई है। मृतक प्रकाश की पीठ में सटे बालू ने हत्यारे दोस्तों का राज खोल दिया।

रातोंरात पुलिस ने हत्‍या का खुलासा किया

बताते चलें कि शुक्रवार की सुबह खेतों की ओर निकले लोगों ने कमरपुर हाल्ट के समीप ढूढ़नी गांव के सामने रेल ट्रैक के पास 25 वर्षीय युवक का शव पड़ा देख पुलिस को इसकी सूचना दी। ट्रैक के पास बरामद शव को बक्सर जीआरपी कब्जा में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने के साथ ही पुलिस जांच में जुटी थी। इस बीच हत्या का मामला प्रतीत होते ही मुफ्फसिल पुलिस भी जांच में जुट गई थी। मृतक युवक की पहचान ढूढ़नी गांव निवासी प्रेमचंद राम के पुत्र प्रकाश राम (25 वर्ष) के रूप में की गई। मृतक गांव के ही एक किसान का ट्रैक्टर चालक का काम करता था। इस मामले में मृतक के पिता के बयान पर गांव के ही राहुल राजभर, जितेंद्र राजभर और बरूपुर क ऋषिकेश राजभर के विरुद्ध नामजद प्रथमिकी दर्ज कराई गई थी। दरअसल मौत से पूर्व गुरुवार की शाम यही तीनों आरोपित प्रकाश को घर से बुलाकर ले गए थे, जिसके बाद उसके मौत की सूचना ही घर पहुंची थी। मामले में शुक्रवार को ही जितेंद्र को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही थी, और रातोंरात पूरे मामले का खुलासा हो गया।

हत्या से पहले पिलाई शराब

पुलिस हिरासत में मौजूद ढूढ़नी गांव निवासी जितेंद्र ने पुलिस की पूछताछ में खुलासा करते बताया कि हत्या के पूर्व उनलोगों ने शराब पार्टी रखी थी, जिसमें खुद सिर्फ दिखावे के लिए शराब ले रहे थे, पर प्रकाश को भरपूर शराब पिलाते जा रहे थे। जैसे ही प्रकाश पर नशा गहराने लगा कि उसे लेकर सुनसान स्थान पहुंच गए और नशे में धुत्त प्रकाश की गला घोंटकर मौत की नींद सुला दिया।

प्रेम प्रसंग में हुई हत्या

जितेंद्र ने बताया कि गांव के ही उसके दोस्त की बहन से प्रकाश का प्रेम सम्बन्ध चला आ रहा था। उसको छोड़ने के लिए वेलोग प्रकाश को अनेक बार मना कर चुके थे, पर प्रकाश उनकी एक नहीं सुन रहा था। इस बीच लड़की की शादी कर दी गई, पर प्रकाश उसकी ससुराल तक मिलने के लिए पहुंच जा रहा था। आखिर में थक हार कर उन्होंने उसके हत्या की योजना बनाई।

पूरे घटनाक्रम की पुष्टि करते सदर डीएसपी गोरख राम ने बताया कि प्रेम सम्बन्धों के कारण ही हत्या की गई थी। इस मामले में पिता के बयान पर तीन युवकों को नामजद करते मुफ्फसिल थाना में प्रथमिकी दर्ज कराने के बाद जितेंद्र को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं अन्य की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।