पूर्व एमएलसी प्रत्याशी रईस खान के काफिले पर गोलीबारी मामले में ओसामा शहाब व डब्ल्यू खां का नाम सुपर विजन में नहीं बैठा सटीक, साबिर मियां दो दिन के रिमांड पर

0
  • सदर एसडीपीओ श्री जितेंद्र पांडे के कार्यालय से निकल चुका है सुपर विजन
  • कई आरोपित है जेल में तथा कई चल रहे हैं फरार

✍️परवेज़ अख्तर/एडिटर इन चीफ: एमएलसी चुनाव संपन्न होने के बाद शहर के नया किला कार्यालय से अपने घर सिसवन के ग्यासपुर जा रहे निर्दलीय प्रत्याशी रईस खान व उनके काफिले पर महुअल गांव के समीप स्कार्पियों सवार अपराधियों द्वारा ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी गई थी.इस घटना में जहां एक युवक की मौत हो गई थी.वहीं इनके समर्थक समेत अन्य कई लोग सदीद तौर पर जख्मी हो गए थे.इस मामले राजद के पूर्व दिवंगत सांसद डॉ.मोहम्मद शहाबुद्दीन के पुत्र ओसामा शहाब,राजद पार्टी के पूर्व विधानसभा प्रत्याशी डब्लू खान सहित करीब आठ लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया था.जिसमें से चार को गिरफ्तार कर पुलिस जेल भेज चुकी है.वहीं फरार अन्य की तलाश में अब भी पुलिस लगातार प्रयास कर रही है.लेकिन अभी भी कई आरोपित पुलिस पकड़ से कोसों दूर हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

इसी बीच पुलिसिया सूत्रों की माने तो सुपर विजन के क्रम में पूर्व दिवंगत सांसद के पुत्र ओसामा शहाब व एमएचनगर थाना क्षेत्र के शेखपुरा निवासी सह शेखपुरा पंचायत के मुखिया पति डब्ल्यू खां का नाम केस के सुपर विजन के दौरान सदर एसडीपीओ श्री जितेंद्र पांडे द्वारा जांच के बाद हीं अभियुक्ति करण पर अनुसंधानकर्ता को निर्णय लेने की बात दोहराते हुए सुपर विजन निकाला है और एसडीपीओ सदर के सुपरविजन के आधार पर सिवान एसपी कार्यालय से प्रतिवेदन दो भी निकाला जा चुका है. हालांकि एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा द्वारा अनुसंधान को अंतिम दौर में होने की बात कही जा रही है.लेकिन फिलहाल जो सूचना प्राप्त हो रही है।उस सूचना के मुताबिक प्रतिवेदन दो एसपी कार्यालय सिवान से निकल जाने की बात प्रकाश में आ रही है.लेकिन बार-बार पुलिस अनुसंधान प्रभावित होने का हवाला देते हुए कुछ भी बताने से इंकार कर रही है.

यहां बताते चले कि दर्ज कांड के सभी आरोपितों की जब तक गिरफ्तारी नहीं हो जाती है,तब तक अनुसंधानकर्ता द्वारा न्यायालय में फाइनल चार्जशीट दाखिल नहीं करेंगे.चार्जशीट दाखिल होने के बाद के बाद पुलिस किन-किन लोगों के विरुद्ध न्यायालय में चार्जशीट दाखिल करती है यह देखना अभी बाकी है.मालूम हो कि हमले के बाद रईस खान ने हुसैनगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी थी.दर्ज प्राथमिकी में प्रतापपुर गांव निवासी पूर्व दिवंगत सांसद डॉ मोहम्मद शहाबुद्दीन के पुत्र ओसामा शहाब,सराय ओपी के चाप गांव निवासी मो.अफताब,नगर थाना क्षेत्र के नया किला नवलपुर निवासी गुड्डू मियां उर्फ गुड्डू पिस्टल,मुफस्सिल थाना क्षेत्र के ओरमा गांव निवासी पूर्व मुखिया शाबिर मियां, एमएचनगर थाना क्षेत्र शेखपुर निवासी सह शेखपुरा पंचायत के मुखिया पति डब्ल्यू खां,महुवल गांव निवासी आजाद अंसारी,महुअल निवासी आसिफ सिद्दीकी व यूपी के मऊ जिला निवासी कुख्यात अपराधी चव्वनी सिंह पर जान लेने की नियत से मेरे व मेरे काफिले के ऊपर हमला करवाने का आरोप लगाया गया था.

इसके बाद पुलिस महुअल निवासी आजाद अंसारी, आसिफ सिद्दकी को जेल भेज दिया था.वहीं आफताब को मध्य प्रदेश की भिलाई से पुलिस ने गिरफ्तार किया था.वहीं ओरमा के पूर्व मुखिया साबिर मियां ने 31 अगस्त को पुलिसिया दबिश देख न्यायालय में सरेंडर कर दिया था.जहां इस चर्चा है कि पुलिस ने अभी न्यायालय में पूर्व सांसद के पुत्र ओसामा व शेखपुरा पंचायत के मुखिया पति हामिद रजा खां उर्फ डब्ल्यू खां को छोड़ अन्य अभियुक्तों के विरुद्ध इश्तेहार व कुर्की का आवेदन दे रखा है परंतु इन दोनों के विरुद्ध कोई आगे की कार्रवाई नहीं की है.पुलिसिया सूत्रों की माने तो इस केस से इन दोनों नाम निकलता दिख रहा है.बस औपचारिकता भर रह गयी है.इस संबंध में जब एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा से बात कही गयी तो उन्होंने अनुसंधान की बात कहते हुये कुछ कहने से इंकार किया है.उनका कहना था कि पुलिस अनुसंधान कर रही है.

साबिर मियां दो दिन के रिमांड पर

WhatsApp Image 2022 09 07 at 1.20.42 PM

रईस खां के काफिले पर गोलीबारी मामले में 31 अगस्त को आत्मसमर्पण करने वाले साबिर मियां को पुलिस ने मंगलवार को दो दिन के रिमांड पर ले लिया.न्यायालय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार,विगत पांच अक्टूबर को अनुसंधान कर्ता द्वारा  रिमांड पर लेकर पूछताछ करने के लिए आवेदन दिया गया था.जहां मंगलवार को न्यायिक दंडाधिकारी सारिका वाहालिया ने अनुमति दे दी.अनुमति मिलने के बाद हुसैनगंज पुलिस ने एसआईटी के सहयोग से साबिर मियां को दो दिनों के रिमांड पर देर शाम ले लिया.थानाध्यक्ष रामबालक प्रसाद यादव ने बताया कि पूछताछ के बाद कुछ अन्य बिंदुओ पर जांच करते हुये अनुसंधान को पूरा किया जायेगा.