दारौंदा पुलिस की निष्क्रियता से महाराजगंज पुलिस की जिम्मेदारी बढ़ी

0

✒️परवेज अख्तर/सिवान: जिले के दारौंदा थाना क्षेत्र के रुकुंदीपुर पंचायत के मुखिया बबीता देवी के पति प्रदीप हत्याकांड मामले में महाराजगंज पुलिस द्वारा चार एक का फोर्स तैनात किया गया है, हालांकि लोगों के इस बात को लेकर लगातार चर्चा हो रही है कि जब से प्रदीप तिवारी की हत्या हुई है महाराजगंज पुलिस आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी में जुट गई है। सभी जगह महाराजगंज पुलिस के अधिकारी दिखाई दे रहे हैं। जबकि इस हत्याकांड मामले में सभी आरोपित दारौंदा थाना क्षेत्र के अंतर्गत है। इस मामले में मुखिया बबीता देवी के स्वजन या घर के लिए सुरक्षा के लिए तैनात पुलिस अधिकारी से लेकर पुलिस जवान तक महाराजगंज थाने की पुलिस तैनात किया गया है।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

दारौंदा थाना क्षेत्र होने के बावजूद महाराजगंज थाने की पुलिस की तैनाती को देखकर लोगों के बीच खूब चर्चा होने लगी है। विधायक कर्णजीत सिंह ने बताया कि प्रदीप हत्याकांड में सभी आरोपित को शीघ्र गिरफ्तारी के लिए एसपी से मिलकर बातचीत किये है। उन्होंने बताया कि दारौंदा थाना में नये थाना प्रभारी नहीं बनाएं गये है। शीघ्र नये थाना प्रभारी योगदान कर सकते हैं। विदित हो कि दारौंदा प्रखंड के रुकुन्दीपुर पंचायत के मुखिया बबीता देवी के पति प्रदीप तिवारी को 7 नवंबर को अपने गांव आने के दौरान जगदीशपुर गांव के समीप बेफौफ अपराधियो ने गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद पुलिस लगातार संदेहात्मक ठिकानों पर आरोपित को गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।