बिहार में आज से इंटर की परीक्षा शुरू, जानें जरूरी गाइडलाइन

0

पटना: बिहार बोर्ड की इंटर परीक्षाएं (विज्ञान व कला) आज यानी सोमवार से शुरू हो रही हैं। कोरोना काल में बोर्ड परीक्षा लेने वाला यह पहला शिक्षा बोर्ड है। बोर्ड ने परीक्षार्थियों को जूता-मोजा पहनकर आने की छूट दे दी है। कदाचार मुक्त परीक्षा के लिए केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। प्रत्येक पांच सौ परीक्षार्थी पर एक वीडियोग्राफर रहेगा। दस मिनट पहले तक परीक्षार्थियों को केंद्र में प्रवेश दिया जाएगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

राज्य भर में 1473 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जहां पर 13 लाख 50 हजार 233 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। इनमें 6 लाख 46 हजार 540 छात्राएं और 7 लाख 03 हजार 693 छात्र शामिल होंगे। 25 परीक्षार्थी पर एक वीक्षक रहेंगे। परीक्षा संचालन के लिए बिहार बोर्ड ने वाट्सएप ग्रुप भी बनाया है। इससे डीईओ के माध्यम से सभी डीएम व बोर्ड परीक्षा पर नजर रख सकेंगे।

छात्राओं के लिए हर जिले में चार-चार मॉडल परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं। परीक्षा के पहले दिन कला, विज्ञान और वोकेशनल कोर्स की परीक्षा ली जाएगी। सोमवार को प्रथम पाली में भौतिकी की परीक्षा होगी। दूसरी पाली में राजनीति शास्त्र और वोकेशनल कोर्स के हिन्दी विषय की परीक्षा ली जाएगी। प्रथम पाली 9.30 से 12.45 बजे तक और दूसरी पाली 1.45 से शाम पांच बजे तक आयोजित होगी। वाणिज्य संकाय की परीक्षाएं चार फरवरी से शुरू होंगी।

सौ फीसदी अतिरिक्त प्रश्न का मिलेगा विकल्प 

बिहार बोर्ड ने इस बार इंटर वार्षिक परीक्षा के प्रश्न पत्र का पैटर्न बदल दिया है। सौ अंकों वाले विषय में 50 अंक के वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे। हर प्रश्न के लिए इस बार विकल्प रहेंगे। यानी सौ वस्तुनिष्ठ प्रश्न रहेंगे, इसमें 50 प्रश्नों का उत्तर छात्रों को देना है। इसी तरह दो और पांच अंकों के दीर्घउत्तरीय प्रश्नों में भी विद्यार्थी को सौ फीसदी अतिरिक्त प्रश्न का विकल्प दिया जाएगा।

कंट्रोल रूम बनाया गया 

इंटर परीक्षा के लिए बिहार बोर्ड द्वारा कंट्रोल रूम बनाया गया है। कंट्रोल रूम 30 जनवरी से 13 फरवरी तक कार्यरत रहेगा। परीक्षा संबंधित किसी तरह की दिक्कत होने पर सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक कंट्रोल रूम में 612-2230009 नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

कोविड-19 के लिए जारी निर्देश 

  1. परीक्षार्थी मास्क लगाकर परीक्षा देंगे। हैंड सेनेटाइजर लेकर आना है।
  2. जिनके शरीर के तापमान अधिक होगा, उनके बैठने की व्यवस्था अलग होगी।
  3. विद्यार्थी पंक्तिबद्ध होकर परीक्षा केंद्र में प्रवेश करेंगे। सामाजिक दूरी का पालन करना है।
  4. प्रत्येक पाली की परीक्षा शुरू होने के पहले कक्षाओं को सेनेटाइज करना है।
  5. परीक्षार्थी के कक्षा में प्रवेश के समय सेनेटाइजर लगाना है।
  6. यत्र-तत्र थूकने व गंदगी फैलाने पर रोक रहेगी।
  7. खांसते या छींकते समय मुंह पर रूमाल रखें।
  8. वीक्षक व परीक्षा में संलग्न पदाधिकारी मास्क और फेस कवर का प्रयोग करेंगे।
  9. दिव्यांग छात्र के साथ आने वाले लेखक भी मास्क पहनकर आएंगे।