बेउर जेल के वायरल वीडियो मामले में जेल अधीक्षक पर गिरी गाज, निलंबित

0

पटना : पिछले दिनों बिहार की जेलों में हुई छापेमारी के दौरान कई मोबाइल फोन, सिम कार्ड और अन्य आपत्तिजनक सामग्री की बरामदगी के बाद पर जेल आईजी ने कड़ी कार्रवाई करते हुए बेउर जेल अधीक्षक और नवादा जेल अधीक्षक को निलंबित कर दिया है. जेल आईजी मिथिलेश मिश्रा की ओर से गुरुवार को जारी सूचना के अनुसार बेउर जेल अधीक्षक सत्येंद्र कुमार और नवादा जेल अधीक्षक महेश रजक को निलंबित कर किया गया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

पूर्णिया जेल अधीक्षक जितेंद्र कुमार को बेउर जेल का नया अधीक्षक बनाया गया है. गौरतलब है कि 3 मार्च को बेऊर जेल में छापेमारी के दौरान दो मोबाइल फोन और एक सिम कार्ड बरामद किया गया था. पिछले दिनों में बेउर जेल का एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें कुख्यात अपराधी सुबोध सिंह रंगदारी न देने की वजह से एक अन्य कैदी कुणाल शर्मा से उठक-बैठक लगवाते दिख रहा था. जेल के अंदर का यह वीडियो वायरल होने के बाद हड़कंप मच गया था.

हरकत में आए जिला प्रशासन ने 8 मार्च को फिर से बेउर जेल में छापेमारी की थी और दो मोबाइल फोन, एक पेन ड्राइव बरामद किया था. बेउर जेल में पिछले 1 हफ्ते के दौरान हुई छापेमारी में बरामद आपत्तिजनक सामग्री को लेकर जो जांच की गई उसमें जेल अधीक्षक सत्येंद्र कुमार की तरफ से भारी लापरवाही सामने आई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि सत्येंद्र कुमार जेल में प्रतिबंधित सामग्री के प्रवेश और उसका नियम विरुद्ध उपयोग को रोक पाने में सक्षम नहीं हैं.

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि सत्येंद्र कुमार को जेल के विभिन्न वार्ड के बारे में भी कोई जानकारी नहीं है. जेलकर्मी भी उनके नियंत्रण में नहीं हैं जिसकी वजह से जेल के नियमों की लगातार धज्जियां उड़ रही थीं. इसी लापरवाही को देखते हुए जेल आईजी मिथिलेश कुमार ने बेउर जेल अधीक्षक सत्येंद्र कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. निलंबन अवधि में उनका मुख्यालय सेंट्रल जेल, पूर्णिया होगा.