प्रेमिका से मिलने का जुगाड़: गांव बिजली काट देता था मिस्त्री, ग्रामीणों ने अंधेरे में दोनों को पकड़ा

0

पूर्णिया: बिहार के पूर्णिया जिले से एक ऐसी खबर सामने आई है, जो काफी हैरान करने वाली है. दरअसल ग्रामीणों ने एक प्रेमी जोड़े को रंगरेलियां मनाते अकेले में पकड़ा है. बताया जा रहा है कि प्रेमी प्रेमिका के साथ संबंध बनाने के लिए पूरे गांव की बिजली 2 घंटे के लिए काट देता था. लाइट ऑफ करना ही गर्लफ्रेंड के लिए सिग्नल होता था. घटना पूर्णिया जिले के नगर थाना क्षेत्र की है. यहां गनेशपुर डहरिया आदिवासी टोला के लोगों ने एक बिजली मिस्त्री को उसकी प्रेमिका के साथ पकड़ा और दोनों का सिर मुड़वाकर और जूते-चप्पल का माला पहनाकर पूरे गांव में घुमाया. बताया जा रहा है कि ग्रामीण भीषण गर्मी में बिजली के लिए काफी परेशान रहते थे. उन्हें भनक लगी कि गांव का मिस्त्री सुरेंद्र राय ही रोज-रोज बिजली काट देता है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ad-mukhiya

ग्रमीणों का आरोप है कि बिजली मिस्त्री सुरेंद्र राय को जब भी युवती से प्यार करने का मन होता था, वह गांव की बिजली काटकर अंधेरे का फायदा उठाकर दोनो रंगरेलिया मनाता था. इस बात की भनक युवती के पड़ोसी को लग गई. फिर जैसे ही गांव की बिजली कटी लोगों को पता चल गया कि फिर बिजली मिस्त्री अपनी गर्लफ्रेंड से मिलें वाला है.

लोगों ने दोनों को रंगेहाथ पकड़ने का प्लान बनाया. बिजली मिस्त्री ने बिजली काटकर प्रेमिका को सिग्नल दिया. जैसे ही बिजली मिस्त्री घर में घुसा ग्रामीणों ने धावा बोल दिया और दोनों को रंगेहाथ पकड़ लिया. इसके बाद ग्रामीणों ने दोनों का सिर मुड़वाकर और जूता-चप्पल का माला पहनाकर पूरे गांव में घुमाया. गांववालों का कहना था कि घुमाने का उद्देश्य यही था कि इसके बाद कोई गांव में इस तरह की गलती न करे.

बताया जा रहा है कि बाद में बिजली मिस्त्री और उसकी प्रेमिका की शादी भी करा दी गई. राम मुर्मू के निर्देश पर दोनों की आदिवासी रीतिरिवाज से शादी कराई गई. लेकिन जैसे ही लड़की विदाई होकर बिजली मिस्त्री के घर पहुंची, एक दूसरा बवाल खड़ा हो गया. दरअसल वो बिजली मिस्त्री सुरेंद्र पहले से ही शादीशुदा था.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here