सिवान जंक्शन पर कोरोना से बचाव के नाम पर हो रही खानापूर्ति

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
नियमों व तमाम गाइडलान के साथ बेपटरी हुई ट्रेनें लोगों को लेकर दौड़ने लगी हैं। रोजाना ही जंक्शन पर अब हजारों की संख्या में यात्रियों की आवाजाही शुरू है। ऐसे में जंक्शन के अंदर यात्रियों को प्रवेश कराने के पूर्व उनकी थर्मल स्क्रीनिग करनी है, लेकिन जंक्शन पर कोविड-19 के नियमों की अनदेखी जांच में लगे पदाधिकारियों द्वारा की जा रही है। ना तो यात्रियों के शरीर के तापमान की जांच होती है और ना ही उन्हें सैनिटाइजर ही दिया जाता है। शनिवार को भी जंक्शन पर यात्रियों की अत्यधिक भीड़ देखने को मिली, यात्री ना तो शारीरिक दूरी का ख्याल रख रहे थे और ना ही मास्क लगाने के प्रति जागरूक दिखे। वहीं प्रवेश द्वार पर ही काफी संख्या में यात्रियों की भीड़ होने के कारण कोरोना का खतरा साफ झलक रहा था। दूसरी तरफ अब जंक्शन पर पहले की तरह सबकुछ सामान्य कर दिया गया है।यात्रियों के शरीर का तापमान नहीं होता जांच प्रवेश के दौरान यात्रियों के शरीर का तापमान जांचा नहीं जाता है। यह लापरवाही जहां रेलवे के अधिकारियों को भारी पड़ेगी वहीं यात्रियों पर भी मूसीबत बनेगी। कोरोना की अनदेखी यात्रियों द्वारा जंक्शन के बाहर और प्लेटफॉर्म पर खूब देखने को मिल रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

यात्री नहीं लगाते मास्क

बतादें कि लोग बिना मास्क के ही ट्रेनों में सफर करते हुए देखे जा रहे हैं। उन्हें कोई टोकने वाला भी नहीं है। बचाव व जांच के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति हो रही है। प्लेटफॉर्म पर यात्री बैठने के दौरान कही पर भी शारीरिक दूरी का पालन नहीं कर रहे हैं।

कहते है अधिकारी

नियमों का पालन कराने के लिए जवान तैनात रहते हैं। सभी यात्रियों को शारीरिक दूरी पालन कराया जाता है। प्रवेश द्वार पर और सख्ती बढ़ाई जाएगी।

अजय कुमार सिंह इंस्पेक्टर आरपीएफ