दरौली में झरही नदी में डूबकर लपाता मासूम का दूसरे दिन गोताखोरों की मदद से निकाला गया

0
shav nikalte gotakhor

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के दरौली थाना क्षेत्र के सरहरवा गांव में गत बुधवार को झरही नदी में डूबकर हुए लपाता मासूम का दूसरे दिन गुरुवार को स्थानीय गोताखोरों की मदद से निकाल लिया गया। उसके बाद पुलिस मासूम के शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए सिवान भेज दिया गया। उधर मासूम के शव मिलने के बाद स्वजनों में चित्कार मच गया। डूबे मासूम सरहरवा गांव निवासी आलोक सिंह उर्फ बब्लू सिंह का पुत्र अनूज सिंह (आठ वर्ष) बताया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार वुधवार को दो बजे अपराह्न में अपने दो-तीन दोस्तों के साथ झरही नदी किनारे जाकर हाथ-पैर धो रहा था, कि पैर फिसल गया और गहरे पानी में चला और डूब गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

उसके बाद मासूम के डूबने की सूचना पर स्वजन व ग्रामीण झरही नदी किनारे पहुंच कर डूबे बालक को खोजबीन करने लगे। देर शाम तक खोजबीन करने के बाद डूबे मासूम का पता नहीं चल पाया। उधर ग्रामीणों द्वारा मासूम की डूबने की सूचना बीडीओ लाल बाबु पासवान व सीओ आनंद कुमार गुप्ता को दिया गया। गुरुवार को सुबह सीओ आनंद कुमार गुप्ता अवर निरीक्षक सुधीर सिंह स्थानीय गोताखोरों के साथ सरहरवा झरही नदी पहुंच खोजबीन शुरू करवाया गया। गोताखोरों की दो-तीन घंटों की मशक्कत के बाद डूबे मासूम का खोज निकाला गया।

उसके बाद पुलिस शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए सिवान भेज दिया गया। मृतक डूबे मासूम अपने दो भाइयों में छोटा था। उधर माता शिल्पी देवी को रो-रो कर बुरा हाल है। मासूम की डूबने की सूचना पर ग्रामीण व सामाजिक कार्यकर्ता विद्यासागर बैठा, मुखिया श्यामा यादव, पूर्व मुखिया उमेश कुमार मल, पूर्व बीडीसी अवध किशोर नाथ तिवारी, विरेन्द्र प्रताप सिंह, विनोद प्रताप सिंह सहित काफी संख्या में गुरुवार को पहुंच स्वजन को सांत्वना देने लगें। सीओ आनंद कुमार गुप्ता ने बताया कि मृतक मासूम के परिजन को नियमानुसार मुआवजा दिया जाएगा।