महाराजगंज: चार दिन से लापता युवक की हत्या कर शव चंवर में फेंका, सनसनी

0

क्रिकेट देखने गया था युवक, रात में मोबाइल ऑफ मिलने से परिजनों को थी अनहोनी की आशंका

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के पसनौली गांव से चार दिन से लापता युवक का शव बुधवार की सुबह इंदौलीव रामापाली के बीच चंवर से बरामद हुई. शव को देखने से ऐसा प्रतीत होता है कि अपराधियों ने युवक के गर्दन एवं पेट में चाकू मारकर हत्या की है. हालांकि पुलिस अभी हत्या की बात नहीं स्वीकार कर रही है. शव मिलने की सूचना पर घटनास्थल पर पहुंचे परिजनों और ग्रामीणों ने मृत युवक की पहचान शहर के पसनौली गगन गांव निवासी रोजा अंसारी के 25 वर्षीय पुत्र खुर्शीद अंसारी के रूप में की गई है. लापता युवक की शव मिलने की सूचना पर थानाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह व एसआई अनिल कुमार सिंह पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे मे लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

शव बरामदगी के बाद से अटकलों का बाजार गर्म है. जहां पीड़ित परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है. वहीं मामले को गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह मामले की जांच मे जुट गए है. साथ ही पीड़ित परिवार से घटना के संबंध मे जानकारी लेते हुए पूछताछ की. घटना के संबंध में बताया जाता है कि पसनौली गगन निवासी रोजा अंसारी का 25 वर्षीय पुत्र खुर्शीद अंसारी रविवार की रात गांव में ही हो रहे नाईट क्रिकेट मैच देखने गया था. वापसी में रात करीब 10 बजे पसनौली रेलवे ढाला पर रूक कर अपने दोस्तों को यह कहा कि तुमलोग जाओ हम थोड़ी देर में आ रहे हैं. सभी दोस्त अपने घर चले गये. देर रात जब खुर्शीद घर नहीं पहुंचा तो परिजनों को चिता हुई. उसका फोन भी स्विच ऑफ आने लगा. इससे परिवार के लोग भी चिंतित हो गए.

सोमवार को जरती मां मंदिर के सामने नहर के बांध पर उसका ईअर फोन और बेल्ट मिला, वहीं खून के धब्बे भी दिखाई दिये. परिजनो ने खोजबीन शुरू कर दिया. सोमवार एंव मंगलवार की दिन रात विभिन्न जगहों पर परिजनों व ग्रामीणों ने काफी खोजबीन की. लेकिन कुछ पता नहीं चला. मंगलवार को रोजा अंसारी ने अपने पुत्र के लापता होने का आवेदन थाना में दिया. मंगलवार को डांग स्क्वायड टीम ने पहुंचकर पुरी जांच की थी. लेकिन लापता युवक का कोई सुराग नहीं मिल सका. इधर बुधवार की अहले सुबह इंदौली रामापाली चंवर के पास मछली पालन कर रहे लोगों की नजर एक शव पर पडी. उन्होंने इसकी सूचना गांव में भेजी. जब गांव के लोग वहां पहुंचे तो शव की शिनाख्त खुर्शीद के रूप मे की गई.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here