महाराजगंज: पूजे गये भगवान बलभद्र,मांगी सुख – समृद्धि

0

परवेज अख्तर/सिवान: महाराजगंज भगवान बलभद्र की पूजा श्रद्धापूर्वक की गयी.कलवार समाज द्वारा सोमवार की शाम शहर के नयाबाजार स्थित नारायण तेल मिल परिसर एवं इन्दौली गांव निवासी पवन कुमार के निवास पर सोमवार की शाम भगवान बलभद्र एवं भगवान सहस्त्रार्जुन की पूजा – अर्चना की गयी.पूजा में कलवार समाज के लोगों ने शारीरिक दूरी का पालन करते हुए इसमें हिस्सा लिया, कलवार समाज के महिला पुरुष व बच्चों ने अपने कुल देवता को नमन किया.मुख्य अतिथि व महाराजगंज के पूर्व विधायक हेमनारायण साह ने कहा कि समाज में शिक्षा का अलख जगाने की जरूरत है. इसके लिए सभी को शिक्षा के प्रति जागरूक करने के साथ संसाधन भी उपलब्ध कराना होगा.कहा कि समाज में एकजुटता के साथ कुछ बेहतर करने की नितांत आवश्यकता है. उन्होंने शिक्षा व स्वच्छता पर जोर दिया.साथ ही असहाय लोगों के मदद में हाथ बढाएं और समाज को एक नई दिशा देने का काम करें. भाजपा नेता मोहन कुमार पद्माकर ने पूजा में शामिल होकर वैश्य समाज के उत्थान पर प्रकाश डाला.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ad-mukhiya

कार्यक्रम के आयोजक अभिषेक कुमार ब्याहुत ने कहा कि भादों के महीने में समाज के लोग अपने-अपने घर कुल देवता भगवान बलभद्र की पूजा अवश्य करें और प्रार्थना करें कि कोरोना महामारी को ईश्वर समाप्त करें ताकि जग का कल्याण हो सके.पूजा पर यजमान के रूप में राजू प्रसाद,बलीराम प्रसाद बली,अभिषेक कुमार व्याहुत, प्रेमजी प्रसाद ने पूरे विधि विधान के साथ पूजा को संपन्न करवाया. पूजा – अर्चना के बाद समाज के लोगों ने अपने कुलदेवता के समक्ष मत्था टेका एवं सुख,समृद्धि की कामना की.इसके बाद कलवार समाज के सामाजिक उत्थान एवं समाज की अपनी जमीन लेने एवं भवन बनाने सहित कई मुद्दों पर भी चर्चा हुई.पूजा पवन कुमार की देखरेख में संपन्न हुई.

इसमें समाज के सभी लोगों ने बेटियों की शादी,गरीबों को मुख्यधारा में लाने,उनके विकास,उत्थान के प्रति एकजुटता दिखाने पर सहमति जताते हुए इसे प्राथमिकता में लेने की बात कही.कुछ लोगों ने कहा कि इस दिशा में सभी लोग पहल कर इस कार्य को पूरा करने में अपना योगदान दें ताकि हर वर्ष अपने कुलदेवता भगवान बलभद्र एवं भगवान सहस्त्रार्जुन की पूजा एवं समाजिक सम्मेलन भव्य रुप से अपने भवन में हो सके. प्रसाद लेने के लिए पहुंचे कलवार समाज के सैकड़ों लोग शामिल थे.मौके पर प्रेम प्रसाद, दशरथ प्रसाद, ओमप्रकाश गुप्ता, लालबाबू प्रसाद, मनोज प्रसाद, बलिराम प्रसाद, मुन्ना कुमार दिनकर व पवन कुमार,शुभनारायण प्रसाद आदि मौजूद थे.