पेट्रोल-डीजल मूल्य वृद्धि के विरोध में माले ने फूंका पुतला

0

परवेज अख्तर/सिवान : स्थानीय खुरमाबाद स्थित भाकपा माले कार्यालय से शुक्रवार को नक्सलवादी दिवस पर आसमान छूती महंगाई और पेट्रोल-डीजल बढ़ती कीमतों के खिलाफ मार्च निकाला गया तथा जेपी चौक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया।इस मौके पर सभा को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक अमरनाथ यादव ने कहा कि किसानों की मुक्ति का संघर्ष था, नक्सलवादी जिसे पुलिस दमन और सत्ता के सफेदपोशों ने बदनाम किया आजादी के इतने वर्ष बाद भी देश में किसान आत्महत्या कर रहे है। देश में शिक्षा, स्वास्थ्य की बातें कम करती है। माले केंद्रीय कमेटी सदस्य व जिला सचिव नैमुद्दीन अंसारी ने कहा कि देश को फिर लोकतंत्र और आजादी की रक्षा के लिए संघर्ष इस बात के उदाहरण है कि देश आज सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। आसमान छूती महंगाई तथा रोज बढ़ती पेट्रोल-डीजल की कीमतों ने आम जनता को जीना मुहाल कर दिया है। नेताओं ने केंद्र की सरकार को पूंजीपतियों की सरकार बताया। इस मौके पर रमेश प्रसाद, जयकरण महतो, गुड्डू मियां,राजेश गुप्ता, विकास कुमार यादव, जयनाथ यादव, उमा राम आदि उपस्थित थे।
भाकपा माले ने शुक्रवार को डीजल-पेट्रोल के मूल में बेतहाशा वृद्धि खिलाफ अभियान शुरू करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया। इसके पहले माले कार्यकर्ताओं ने मैरवा में प्रतिरोध मार्च निकाला और सरकार विरोधी नारे लगाए। मार्च का नेतृत्व माले के प्रखंड सचिव मुकेश सिंह कुशवाहा, नगर सचिव ज़िशु अंसारी,मुखिया अशोक प्रजापति, जिला पार्षद उपेंद्र गोड़, पूर्व मुखिया ओमप्रकाश राम ने किया। प्रतिरोध मार्च माले कार्यालय से निकला और मेन रोड, मझौली रोड, थाना रोड, स्टेशन चौक होकर मझौली चौक पहुंचा। इस दौरान केंद्र सरकार के विरोध मे नारे लगाए गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका गया। इसके बाद नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए मुखिया अशोक प्रजापति ने कहा कि पेट्रोल और डीजर की कीमतें आसमान छू रही हैं। इसके लिए केंद्र की भाजपा सरकार पूरी तरह जिम्मेवार है। उन्होंने कहा कि केंद्र की गलत पॉलिसी से अंबानी अडानी मालेमाल और देश की जनता बेहाल है। जिशू अंसारी ने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत सरकार हाफ करें नहीं तो गद्दी छोड़ रास्ता साफ करे। उपेंद्र कुशवाहा, सुरेंद्र शर्मा, बड़ू सिंह, राधा किशुन सिंह, इसरायल मियां, संदीप कुमार, अजय चौहान, ब्रजेश राम, जयराम यादव, ओमप्रकाश ठाकुर, अमित कुमार समेत कई ने संबोधित किया।