लालू यादव के दोषी पाए जाने से दुखी हुए मांझी, कहा- समाज जिसे पूजता हैं उसे फंसा दिया जाता

0

पटना: चारा घोटाला मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को रांची कोर्ट द्वारा दोषी करार दिए जाने के बाद पूर्व सीएम जीतन राम मांझी भी दुखी हैं। उनका कहना है कि समाज जिसे पूजता है, जिससे प्रेरणा लेता है और अच्छा व्यक्ति मानता है, वैसे लोग फंसा दिए जाते हैं। हालांकि यह मामला न्यायधीश से जुड़ा है, लिहाजा टिप्पणी करना उचित नहीं है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बोधगया में अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि लालू जी को सजा होने के बाद गरीब-गुरबों में हताशा है। उन्होंने कहा है कि लालू सामाजिक न्याय व समाजवाद के पुरोधा हैं और उनका समाज के प्रति काफी योगदान रहा है।

उन्होंने कहा कि वे एक समाजवादी नेता है और किस वजह से उन्हें बार-बार जेल जाना पड़ रहा है? यह तो न्यायालय प्रक्रिया से जुड़े न्यायाधीश लोग ही बेहतर समझ सकते हैं।

इतना ही नहीं उन्होंने लालू की तुलना भगवान श्री कृष्ण का हवाला देते हुए कहा कि भगवान श्रीकृष्ण भी जेल में रहे थे, तो क्या वह गुनहगार थे? ये बात उस समय के लोग ज्यादा बेहतर समझते होंगे। आज के परिवेश में लालू जी भी बार-बार जेल जा रहे हैं। ऐसा क्यों हो रहा है इस बात को न्याय से जुड़े लोग ही बेहतर समझते होंगे।