दहेज नहीं मिलने पर विवाहिता की पीटकर हत्या, चार आरोपित

0

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के जी. बी. नगर थाना क्षेत्र के सहलौर गांव में शुक्रवार की सुबह दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दहेज लोभियों ने नवविवाहिता को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया।इसके बाद आरोपितों ने उसके शव को फंदे से लटका कर आत्महत्या की शक्ल देने की कोशिश की, लेकिन इसी बीच मृतका के परिवार वाले वहां पहुंचे गए थे। मृतका चाचोपाली बाबू टोला निवासी अफसर अली की 22 वर्षीय पुत्री अफसाना खातून थी। सूचना पाकर स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। इस मामले में मृतका के पिता के बयान पर चार लोगों को आरोपित किया है। घटना के बाद सभी आरोपित फरार हैं। बता दें कि जीबी नगर थाना क्षेत्र के चाचोपाली बाबू टोला गांव निवासी अफसर अली की 22 वर्षीय पुत्री अफसाना खातून की शादी वर्ष 2016 में उपहार स्वरूप 50 हजार नकद, फर्नीचर का सामान देकर इसी थाना क्षेत्र के सहलौर गांव निवासी दोस्त मोहम्मद के पुत्र एजाजुल हक के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही ससुराल के लोगों ने दहेज के लिए मृतका अफसाना खातून को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। इसी बीच दोनों के बीच समझौता भी हुआ, लेकिन समझौता के बाद भी ससुराल के लोगों द्वारा दहेज में एक लाख रुपये की मांग की जाने लगी। जब दहेज़ की मांग पूरी नहीं हुई तो ससुराल वालों ने अफ़साना खातून को मारपीट कर मौत के घाट उतार दिया। घटना की सूचना मिलते ही जीबी नगर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए सिवान भेज दिया। मृतका के पिता अफसर अली ने सहलौर निवासी मृतका के पति एजाजुल हक, श्वसुर दोष मोहम्मद, सास समीमून खातून एवं ननद रब्या खातून को आरोपित करते हुए आरोप लगाया है कि एक सप्ताह पूर्व मेरे दामाद ने दहेज में एक लाख की मांग किया था जो मैं पूरा नहीं कर सका तो मेरी पुत्री अफसाना खातून को मारपीट कर मौत के घाट उतार दिया। इस संदर्भ में प्रभारी थानाध्यक्ष संजीव रंजन ने बताया कि पोस्मार्टम के बाद ही हत्या का खुलासा होना संभव है। आवेदन मिली है जिसके आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर लिया गया है।

पंक्चर बनाने का काम करता है मृतका का पिता

बता दें कि तरवारा बाजार स्थित बसंतपुर रोड पर मृतका के पिता का गाड़ियों के चक्के का पंक्चर बनाने का दुकान है। मृतका के पिता बहुत गरीब परिवार से हैं। मृतका के पिता का कहना था कि बहुत ही अरमान से मैंने अपनी बेटी की शादी की थी, लेकिन दहेज लोभियों ने एक लाख रुपये के लिए उसकी हत्या कर दी।

शरीर पर थे कई निशान

मृतका के शरीर पर कई दाग थे। उसके गले , हाथ पर जख्म के निशान पाए गए। इससे यह आशंका जताई जा रही थी कि हत्या के पूर्व उसके साथ मारपीट भी की गई है। फिलहाल पुलिस इस मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट के इंतजार में है।

Loading...