मैरवा: महिला का अपहरण कर बिक्री करने के मामले में 24 वर्ष बाद प्राथमिकी

0
fir

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के मैरवा थाना क्षेत्र के एक गांव से 24 वर्ष पूर्व गायब युवती को स्वजनों के ढूंढ निकाले जाने के बाद मैरवा थाने में प्राथमिकी की गई है। प्राथमिकी अपहर्ता के भाई के आवेदन पर की गई है। प्राथमिकी कराने के लिए भाई को एड़ी चोटी एक करनी पड़ी। प्राथमिकी के लिए आवेदन जुलाई में ही दिया गया था। थाने में चक्कर काटने के बाद में एसपी और एसडीपीओ से गुहार लगाई गई। इसके बाद महिला पर भादवि धारा 365 के अंतर्गत प्राथमिकी कराई गई है उसके विरुद्ध 10 वर्ष पहले मैरवा के मझौली चौक से अपहृत एक किशोरी का अपहरण की नामजद प्राथमिकी मैरवा थाने में दर्ज कराई गई थी। महिला पर युवती को अपहरण कर उसकी बिक्री कर देने का आरोप लगा है।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

बता दें कि एक गांव के व्यक्ति द्वारा थाना में दिए आवेदन में कहा गया है कि उसकी बड़ी बहन को उसके ही मोहल्ले की आशा देवी द्वारा 25 जून 1998 को बहला-फुसलाकर नशा का दवा खिलाकर अपहरण कर बेच दिया गया था। 20 जुलाई 2022 को उनकी बहन का सुराग मिलने पर फिरोजाबाद के खेड़ीगड़ा थाना के कुड़ी गांव पहुंचे। वहां से बरामद कर अपने घर ले आए। इसकी सूचना उन्होंने थाने को दी। उन्होंने कहा है कि उनकी बहन को आशा देवी ने बहला-फुसलाकर और विश्वासघात करके अपहरण कर बेंच दिया था। बरामदगी के बाद उनकी बहन ने सारी बातें बताईं। उन्होंने दावा किया है कि उनकी बहन के पहले भी एक लड़की का अपहरण करके बेचने के मामले की प्राथमिकी मैरवा थाना में हुई थी उसमें भी आशा देवी को आरोपित किया गया था।