मैरवा: स्वर्ण व्यवसाई नवनीत कुमार उर्फ गुड्डू की हुई हत्या का हुआ पर्दाफाश

0

अपने ही भतीजा के निशानदेही पर लूट के लिए पहुंचे थे अपराधी, तीन गिरफ्तार

परवेज अख्तर/सीवान: जिले के मैरवा थाना क्षेत्र के लोहारपट्टी निवासी स्वर्ण व्यवसाई नवनीत कुमार उर्फ गुड्डू की हुई हत्या का पर्दाफाश पुलिस ने कर दिया है. पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार भी कर ली है. सोमवार को हत्याकांड का खुलासा करते हुए पुलिस कप्तान अभिनव कुमार ने बताया कि 7 जून की सुबह आठ बजे जब नवनीत कुमार, सीवान से मैरवा जाकर अपना दुकान को खोलने की तैयारी में थे, उसी बीच योजना अनुसार मृतक के पड़ोस में अपने कपड़े की दुकान पर बैठा उसका भतीजा आर्यन कुमार अपने साथियों को सूचित कर बुला लिया. दुकान पर पहुंचने के बाद साथियों ने नवनीत से लूट का प्रयास किया. विफल होने तथा नवनीत द्वारा पहचान किए जाने के बाद इन लोगों ने नवनीत को चाकू मार दी गई. बाद में कमरे में लेजाकर ईंट से चेहरे पर गंभीर रूप से प्रहार कर घायल कर दिया गया. इसके बाद बाहर से कमरा में ताला बंद कर सभी फरार हो गए. इधर मामले में मृतक की पत्नी ने अज्ञात के विरूद्ध मैरवा थाने में आवेदन दिया गया था. पुलिस ने पीड़िता के आवेदन पर कांड संख्या 149/21 में धारा 302/201/34 में मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी थी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

बाद में एसपी के निर्देश पर मैरवा थानाध्यक्ष संजीव कुमार, दरौली थानाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह व तकनीकी शाखा प्रभारी उपेंद्र सिंह की एक टीम गठित की गई. टीम द्वारा आसूचना संकलन करते हुए तकनीकी साक्ष्य के आधार पर छानबीन शुरू किया. कुछ दिन बाद मृतक की पत्नी ने दो लोगों को नामजद करते हुए थाना में आवेदन दिया. पुलिस ने दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू किया. जिसमें पूरा मामला खुलकर सामने आ गया. पुलिस ने बताया कि मामले का कारण नशे को लेकर पैसे इकट्ठा करना था. मृतक का भतीजा आर्यन नशे का आदी था तथा नशा करने वाले गलत संगत में पड़ गया था. नशे के लिए पैसा कम पड़ने के कारण उसने अपने मित्रों के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया था. गिरफ्तार तीनों अपराधियों की पहचान मैरवा थाना क्षेत्र के आदर्श नगर लोहारपट्टी निवासी मृतक का भतीजा दीपक कुमार का पुत्र आर्यन कुमार, शिवपुर मठिया निवासी अशोक बादी का पुत्र राजकुमार और दरौली थाना क्षेत्र के करोम गांव निवासी पंकज सिंह का पुत्र निखिल कुमार के रूप में की गई. पुलिस अधीक्षक अभिनव कुमार ने बताया कि लूट मामले में एक और अपराधी की संलिप्तता है. इसका सत्यापन के लिए अनुसंधान किया जा रहा है जल्दी उसकी भी गिरफ्तारी कर ली जाएगी.