सिवान के विभिन्न केंद्रों पर हुई महापरीक्षा, महिलाओं में दिखा उत्साह

0

परवेज अख्तर/सिवान : जिला शिक्षा विभाग के निर्देश पर जिले के 107 केंद्रों पर रविवार को महादलित, दलित और अल्पसंख्यक, अतिपिछड़ा वर्ग अक्षर आंचल योजना के तहत बुनियादी साक्षरता परीक्षा आयोजित की गई। परीक्षा में 45 वर्ष तक की नवसाक्षर महिलाएं शामिल हुई। आंदर प्रखंड के राजकीय मध्य संकुल संसाधन केंद्र सह राजकीय मध्य विद्यालय असांव में प्रधानाध्यापक जाहिद हुसैन अंसारी की देखरेख में रविवार को नवसाक्षर महिलाओं की महापरीक्षा ली गई। प्रधानाध्यापक ने बताया कि 100 परीक्षार्थीयों में अल्पसंख्यक, अति पिछड़ा व महादलित जाति की 80 महिलाएं परीक्षा में शामिल हुई। परीक्षा शांतिपूर्ण संपन्न हुई। इस मौके पर संजय कुमार श्रीवास्तव, निरूपमा देवी, राजेश चौधरी, वशिष्ठ नारायण यादव, मुकेश कुमार सिंह, हीरालाल साह, मुन्ना कुमार बैठा, बी कुमार राउत आदि शिक्षक उपस्थित थे। रघुनाथपुर के सात केंद्रों पर आयोजित महापरीक्षा में 430 नवसाक्षर महिलाओं ने भाग लिया। इस दौरान केआरपी त्रिलोकीनाथ चतुर्वेदी विभिन्न केंद्रों का जायजा लिया। परीक्षाओं को ले महिलाओं में उत्साह देखी गई। वहीं हुसैनगंज के पांच केंद्रों पर महापरीक्षा आयोजित की गई। जिसमें 256 महिलाओं ने भाग लिया। जानकारी के अनुसार मध्य विद्यालय हुसैनगंज (बालक), मध्य विद्यालय सहदुलेपुर, उत्क्रमित मध्य विद्यालय रेनुआ (कन्या), मध्य विद्यालय बड़रम व मध्य विद्यालय हरिहांस (हिंदी) में परीक्षा आयोजित की गई थी।।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

बीईओ अनीता कुमारी ने बताया कि महापरीक्षा के लिए सुबह दस बजे से शाम 4 बजे तक का समय निर्धारित किया गया है। इस महापरीक्षा में बुजुर्ग ग्रामीण महिलाएं उत्साह के साथ पहुंची थीं। हुसैनगंज मध्य विद्यालय (बालक) में फाजिलपुर, खानपुर खैरांटी, खरसंडा, सरेया से 100, बड़रम में 20, हरिहांस में 26, रेनुआ में 20 एवं सहदुलेपुर में 90 की संख्या में महिलाएं महापरीक्षा में शामिल हुई। यह लिखित महापरीक्षा को तीन खंडों में बांटा गया था जिसमें पढ़ना, लिखना व गणित शामिल था। इस अवसर पर प्रधानाध्यापक विनोद कुमार राम, सौदागर राम, सुनील कुमार गुप्ता, विनोद मिश्र एवं तालिमी मरकज व टोला सेवक महफूज आलम, मंजर इमाम, मजिस्टर बैठा, नुसरत परवीन व नसरीन परवीन सहित अन्य शिक्षक उपस्थित थे। वहीं भगवानपुर के 12 केंद्रों पर आयोजित नव साक्षर महापरीक्षा में 260 महिलाओं ने भाग लिया।

परीक्षा मध्य विद्यालय भीष्मपुर, रामपुर दीघरी, मोरा, माघर, कौड़ियां, बिठुना, मघरी, चोरौली आदि पर आयोजित हुई। मध्य विद्यालय भीष्मपुर के केंद्राधीक्षक मनोज शुक्ला ने बताया कि 15 से 35 आयु की नव साक्षरों का परीक्षा लिया गया। परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण बीआरपी राजीव कुमार श्रीवास्तव तथा पुष्पा कुमारी सहित अन्य अधिकारियों ने किया। दारौंदा के सभी संकुलों पर नवसाक्षर महिलाओं की परीक्षा हुई। बगौरा संकुल विद्यालय में बीडीओ दिनेश कुमार सिंह ने निरीक्षण कर आवश्यक कर कई दिशा निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि दारौंदा के नोडल विद्यालयों में महादलित एवं अल्पसंख्यक अतिपिछड़ा वर्ग अक्षर आंचल योजना के तहत नवसाक्षर महिलाओं की बुनियादी साक्षरता परीक्षा हुई। इसके लिए सभी संकुल समन्वयक एवं संचालकों ने परीक्षा संचालन किया गया। इसके अलावा अन्य प्रखंडों में भी नवसाक्षर महिलाओं की महापरीक्षा आयोजित की गई।