मिथिला की बेटी ने छत्तीसगढ़ में लहराया परचम, बनी जज, गांव में खुशी से झूम उठे लोग

0

पटना: बिहार की बेटियों का परचम लहराना जारी है. अब मिथिलांचल की बेटी प्रीति झा ने छत्तीसगढ़ में परचम लहराया है. वह छत्तीसगढ़ में जज पद के लिए चयनित हुई हैं. इतना ही नहीं, उन्होंने टॉप किया है. कुल 32 अभ्यर्थियों का चयन हुआ है. प्रीति के चयन से उनके मधुनबी के झंझारपुर स्थित पैतृक गांव नरुआर में खुशी की लहर है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

मिल रही जानकारी के अनुसार, छत्तीसगढ़ शासन के विधि एवं विधायी कार्य विभाग के अंतर्गत व्यवहार न्यायाधीश (प्रवेश स्तर) के इंटरव्यू में प्रीति को प्रथम स्थान आया है. झंझारपुर के नरुआर गांव की प्रीति के पिता पवन कुमार झा छत्तीसगढ़ में ही हाईकोर्ट में कार्यरत हैं. उनकी पोस्टिंग बिलासपुर हाईकोर्ट में सेक्शन ऑफिसर के पद पर है. मां पूनम झा गृहणी हैं एवं भाई पार्थ वहीं पढ़ाई कर रहा है।

बताया जाता है कि पैतृक गांव नरुआर में दादी देवकला देवी रहती हैं. उनके साथ प्रीति के चाचा रहते हैं. प्रीति की इस सफलता से मिथिलांचल ही नहीं पूरा बिहार गौरवान्वित है. झंझारपुर स्थित नरुआर गांव में तो हर्ष का माहौल है. 25 वर्षीया प्रीति भी अपनी इस सफलता पर काफी खुश हैं. उन्होंने इस सफलता का श्रेय अपने मातापिता को दिया है. उन्होंने बताया कि मैं बचपन से ही ज्यूडिशियल सेवा में जाना चाहती थी।