मुखिया हत्या कांड: सुनील सिंह उर्फ दहाड़ी सिंह को मौत के घाट उतारे जाने के पहले सोशल मीडिया पर खूब दहाड़ा था गांव का जितेंद्र यादव

0
  • उक्त वीडियो फुटेज सोशल मीडिया पर खूब हो रहा है वायरल
  • पुलिस को करनी चाहिए जांच
  • हत्याकांड में गिरफ्तार पूर्व मुखिया समेत दो भेजे गए है जेल
  • लेरुआ गांव का रहने वाला है जितेंद्र यादव
  • फरार प्रदीप की गिरफ्तारी नहीं होने से परिजनों की बढ़ी बेचैनी
  • मुखिया के पारिवारिक विवाद में ललकारा था जितेंद्र ने
  • वीडियो फुटेज की होगी जांच  : एसडीपीओ

परवेज़ अख्तर/सिवान:
मुखिया के परिवारिक विवाद में लेरुआ गांव के जितेंद्र यादव ने सोशल मीडिया पर मृत मुखिया सुनील सिंह व दहाड़ी सिंह को हत्या के पूर्व खूब दहाड़ते हुए ललकारा था। उक्त वीडियो फुटेज इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। बतादें की घटना के पूर्व कुछ आंशिक रूप से विवाद उनके चाचा के साथ हुई थी। इसी बात को लेरुआ गांव निवासी जितेंद्र यादव ने मुखिया को सोशल मीडिया पर खूब ललकारा था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
ads

बाद में इसी बीच सिवान- पैगंबरपुर मुख्य पथ पर करसौत पुल के पास बीते 27 सितंबर को दिनदहाड़े महाराजगंज के बलऊं पंचायत के मुखिया सह लेरूआ गांव निवासी सुनील सिंह उर्फ दहाड़ी सिंह की हत्या हो गई। उक्त घटना को लेकर मुखिया के इकलौता पुत्र सुमित कुमार सिंह के लिखित आवेदन पर बीते सोमवार की दोपहर बाद एक नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जिसमें महाराजगंज के तक्कीपुर पंचायत के भगौछा निवासी पूर्व मुखिया सुनील राय, दारौंदा थाना क्षेत्र के रसूलपुर निवासी सत्येंद्र यादव तथा बलऊं निवासी प्रदीप यादव को आरोपित किया गया था।

अभी भी दर्ज कांड के एक आरोपित प्रदीप जो पुलिस पकड़ से बाहर है। इस बाबत महाराजगंज एसडीपीओ पोलस्त कुमार ने बताया की दर्ज प्राथमिकी कांड सं. 265/20 में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए  कांड के नामजद आरोपी पूर्व मुखिया  सुनील राय को झारखंड के तिलैया थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। महाराजगंज एसडीपीओ पोलस्त कुमार ने बताया की प्राप्त वीडीओ फुटेज की जांच की जाएगी। दोषी पाए जाने पर जितेंद्र के विरुद्ध कानूनी करवाई की जाएगी।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here