कोविड-19 से बचाव में मास्क, सैनिटाइजर व शारीरिक दूरी का पालन बेहद अहम, थोड़ी सी लापरवाही से घर में दाखिल हो सकता है बड़ा खतरा

0
  • हैंड हाईजीन के लिए सैनिटाइजर और साबुन का उपयोग बहुत महत्वपूर्ण
  • मास्क व हैंड हाईजीन का पूरा ध्यान रखने से संक्रमण से काफी हद तक बचाव संभव

छपरा: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण का प्रसार अब जिले में धीरे-धीरे कम हो रहा है। लेकिन अभी तक इसका वैक्सीन नहीं आया है। इससे बचाव ही फिलहाल इसका सबसे बेहतर उपचार है। अभी भी पूरी सावधानी बरतने की आवश्यकता है। आपकी छोटी सी लापरवाही से संक्रमण फैल सकता है। इसलिए जरूरी है कि सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करें। इस वायरस से महफूज रखने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखें। इसमें मास्क, सैनिटाइजर व सोशल डिस्टेंसिंग बेहद अहम हैं। हालांकि, मास्क का उपयोग बहुत सारे लोग करते दिखाई दे रहे हैं, लेकिन मास्क पहनने के दौरान लापरवाही भी देखी जा रही है, जो संक्रमण को बढ़ा सकता है।कोरोना का संक्रमण चेहरे पर हाथ लगाने एवं नाक से व मुख के माध्यम से शरीर में पहुंचता है। ऐसे में यदि हम थोड़ा सा ध्यान दें तो इस संक्रमण से बचाव संभव है। वहीं हैंड हाईजीन के लिए सैनिटाइजर और साबुन का उपयोग बहुत महत्वपूर्ण है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
ads

मास्क व हैंड हाईजीन का पूरा ध्यान रखें

सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने कहा कि यदि लोग मास्क व हैंड हाईजीन का पूरा ध्यान रखें तो इस संक्रमण पर काफी हद तक काबू पाया जा सकता है। संक्रमण काल में ज्यादा से ज्यादा घर पर रहने की आदत डालें। वह कहते हैं कि कोरोना का संक्रमण जब हम सांस लेते हैं तो नाक के माध्यम से और मुंह के माध्यम से शरीर में पहुंचता है। यदि दोनों बातों का ध्यान रख लिया जाए तो इस पर काबू मुमकिन है।

हर सैनिटाइजर संक्रमण रोकने में सफल नहीं

अल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर कोरोना वायरस से बचाव के लिए उपयुक्त माने गए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार अल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर का ही इस्तेमाल करना चाहिए। किसी ऐसी चीज को छूने के बाद जिससे संक्रमण का डर हो, तुरंत साबुन से अच्छी तरह से हाथ धोना जरूरी है। यदि साबुन और पानी उपलब्ध नहीं है तो आपको सैनिटाइजर का प्रयोग करना चाहिए।

बाहर जाने से पहले तैयारी जरूरी

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी सह कोविड-19 के नोडल पदाधिकारी डॉ. अजय कुमार शर्मा ने कहा कि यदि आप घर से बाहर जा रहे हैं तो कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखें। मास्क अवश्य लगाएं, सैनिटाइजर की छोटी बोतल अपने पास रखें। संभव हो तो ग्लब्स पहन सकते हैं। बाहर जाते समय जूते जरूर पहनें। दुकान से सामान ले रहे हों तो यह अवश्य देख लें कि दुकानदार ने मास्क पहनना है अथवा नहीं। कोशिश करें कि ऐसे दुकानदार से सामान न लें जो मास्क का प्रयोग ना करता हो। दरअसल, मास्क न पहनना संक्रमण की एक बहुत बड़ी वजह है। बाजार के थैलों के बजाय आप अपना थैला घर से लेकर जाएं और उसमें सामान रखवाएं।

यह है बहुत जरूरी

  • सफाई के लिए अपने हाथों को लगातार धोते रहें।
  • हाथ गंदे नहीं होने पर भी उसे धोएं।
  • हाथ धोने के बाद टिशू का प्रयोग कर उसे पोछ लें।
  • छींकने और खांसने के दौरान अपने मुंह पर हाथ रखें।
  • ऐसे लोग जो लोग छींक रहे हों, उनसे दूरी बनाकर रखें।
  • बार-बार अपने चेहरे, नाक और आंखों को छूने से बचना चाहिए।
  • एक-दूसरे से दूर रहें, सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ न बढ़ाएं।
  • बाजार, मॉल, थिएटर, बस टर्मिनल, हवाई अड्डों जैसी लंबी कतारों और भीड़-भाड़ वाली जगहों से बचें।
  • रुमाल को चेहरे पर लगाने से पहले अपने हाथों को साबुन और पानी से साफ करें और फिर मास्क पहनें।
  • मास्क को छूते न रहें और मास्क के सामने वाले हिस्से को बिल्कुल भी टच न करें।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here