मुजफ्फरपुर: मुठभेड़ में पुलिस ने बैंक लूटने आए एक लूटेरे को मार गिराया, तीन को गोली मारकर दबोचा

0

मुजफ्फरपुर में पुलिस ने एक बार फिर बहादुरी का परिचय देते हुए बैंक लूटने आए एक अपराधी को मार गिराया। जबकि तीन अपराधियों को गोली मारकर घायल कर दिया। इस तरह पुलिस ने लूट की वारदात को नाकाम कर दिया। घटना मोतीपुर थाना क्षेत्र के पचरुखी की है। शाम 4 बजे के लगभग बाइक सवार आधा दर्जन अपराधी बैंक ऑफ बड़ौदा की पचरुखी स्थित मोतीपुर शाखा को लूटने की नियत से पहुंचे। स्थानीय लोगों ने लूटेरों के प्लान को भांप लिया और मोतीपुर पुलिस को सूचना दे दी। थानाध्यक्ष अनिल कुमार दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और अपराधियों को ललकारा। चारों तरफ से घिरे अपराधियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फायर खोल दिया। दोनों तरफ से एक दर्जन से ज्यादा राउंड गोली चली जिसमें चार लुटेरों को गोली लग गई। घायलों में से एक की मौत हो गई। शेष तीन को पुलिस ने खदेड़ कर दबोच लिया। दो तीन लूटेरे फरार हो गए। घायल अपराधियों का एसकेएमसीएच में इलाज चल रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

अपराधियों की गोली से स्थानीय लोग भी घायल

अपराधियों की गोली से एक स्थानीय व्यक्ति भी घायल है। सूचना मिलने पर एसएसपी जयंत कांत समेत जिले के सभी वरीय पदाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। इलाके में फरार अपराधियों की तलाश के लिए सर्च अभियान चलाया जा रहा है। इस मामले में एसपी जयंत कांत ने बताया कि बैंक लूट की नीयत से कुछ अपराधी बैंक के अंदर घुस गए जबकि उनके कुछ साथी बाहर खड़े थे। स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस पहुंची तो अपराधियों ने गोली चलाना शुरु कर दिया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फायरिंग की। एसएसपी ने कहा है कि अपराधियों की गोली से एक स्थानीय व्यक्ति जख्मी हो गए हैं जिनका इलाज सरकारी अस्पताल में कराया जा रहा है। हालांकि स्थानीय लोगों का कहना है कि मुठभेड़ के दौरान अंधाधुंध गोली चली जिसमें कुछ अन्य लोगों के घायल होने की भी सूचना है। पुलिस इस मामले में लगातार कार्रवाई कर रही है।

बैंक के रुपये सुरक्षित

एसएसपी ने जयंतकांत ने कहा है कि अपराधियों ने बैंक लूटने की कोशिश की थी लेकिन बैंक के रुपए बिल्कुल सुरक्षित है। अन्य स्थानीय लोगों को गोली लगने की जांच की जा रही है। घटना के समय सिचुएशन न्यूट्रल करना पुलिस की प्राथमिकता थी। मौके से कुछ लुटेरे फरार हो गए। उनकी धरपकड़ के लिए सघन सर्च ऑपरेशन चल रहा है।