एसडीपीओ से न्याय की गुहार लगाने पहुंची नवयुवती

0
mahila gla dabya

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के जगदीशपुर में दो माह पूर्व महिला के शरीर में आग लगाकर हत्या कर देने के मामला को लेकर आधा दर्जन लोग व महिलाओं को नामजद अभियुक्त बनाया गया था. मामले को लेकर काफी गहमागहमी रही थी. हालांकि नामजद आरोपियों के परिजनों ने महिला को जलाकर हत्या के आरोप को झूठा करार दिया था. अपने परिजनों को निर्दोश बताते हुये गुरुवार को एक युवती सीवान एसपी नवीन चंद्र झा से मिली. एसपी ने महाराजगंज थाना क्षेत्र के पोखरा निवासी शिल्पी कुमारी महाराजगंज एसडीपीओ से मिलने की बात कही. उनके निर्देश पर शनिवार को शिल्पी कुमारी ने एसडीपीओ हरिश शर्मा से मिलकर न्याय दिलाने की गुहार लगाते हुये आवेदन के साथ एक सीडी कैसेट क्लीप भी दी है, शिल्पी कुमारी के दिए आवेदन में यह स्पष्ट रूप से कहा गया है कि घटना के दिन शिल्पी कुमारी का कोई परिवार जगदीशपुर में था ही नहीं, एक सोची-समझी साजिश के तहत मेरे पूरे परिवार को फंसाया गया है, परिवारिक लोगों को फंसाने धमकाने के कारण ही मेरे पिताजी की मृत्यु भी पिछले महीने हो गई थी, शिल्पी कुमारी ने आवेदन में एसपी नवीन चंद्र झा से सच्चाई को उजागर करते हुए न्याय की गुहार लगाई है कि हम लोगों का कोई दूर दूर तक वास्ता नहीं है. घटना के दिन हम लोग जगदीशपुर में थे ही नहीं, एक साजिश रच करके मेरे पूरे परिवार को फंसाया गया है न्याय की गुहार बार-बार लगा रही थी, वही आवेदन कर्ता शिल्पी कुमारी ने पूर्व में जमीन हड़पने घर में नहीं रहने देने की संज्ञा दी है. वहीं शिल्पी कुमारी के गांव के लोग तकरीबन 15 से 20 की संख्या में आवेदन पर हस्ताक्षर कर न्याय की गुहार लगाए है. आवेदिका शिल्पी ने बताया कि एसडीपीओ हरिश शर्मा ने न्याय दिलाने का भरोसा दिया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal