15 नवंबर को कांग्रेस करेगी समाहरणालय के समक्ष धरना

0
congress

परवेज अख्तर/सीवान:- गुरुवार को कांग्रेस कार्यालय में बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के प्रवेक्षक रविंद्र नाथ सिंह ने प्रेसवार्ता कर कहा कि सरकार के गलत नीतियों के खिलाफ आगामी 15 नवम्बर को समाहरणालय के समक्ष धरना देंगे.उन्होंने यह भी कहा कि वर्तमान में देश के अंदर भयंकर बेरोजगारी, बेहाल अर्थव्यवस्था कृषि संकट, महंगाई ्यापार की तालाबंदी और बैंक घोटाले के एक कड़वा सच बन गया है. हकीकत यह है कि भारत वित्तीय आपालकाल के दौर से गुजर रहा है. नौकरियों पर संकट है विगत वर्षों में छानवे हजार लोगों को नौकरियों से निकाला जा चुका है पद सृजन की बात कौन करे पुराने पद को को पद को भी समाप्त किया जा चुके हैं.(एन. एस. एस. ओ.) के रिपोर्ट के अनुसार बेरोजगारी 45 वर्षो में सवार्धिक है. और अभी तेजी से बढ़ रहा है. नोटबंदी और असंतुलित जीएसटी के कारण पिछले 6 सालों की जीडीपी अपने निचले पायदान पर है .आकड़ो को छोड़ यदी वास्तविकता देखे तो वितीय वर्ष 2019-20 की पहली तिमाही में जीडीपी 5 प्रतिशत के निचले स्तर पर है. , किसानों को लागत की 50 प्रतिशत मुनाफा समर्थन मूल्य के तौर पर देने के बजाय किसानों के बजारी ताकतों के भरोसे छोड़ दिया गया है. वर्तमान खरीफ मौसम में ही खरीफ फसल समर्थन मूल्य पर दिख रही है.तुअर मूंग उड़द सोयाबीन सूरजमुखी तिल आदि का समर्थन मूल्य भी किसानों को नही मिल पा रही है. उन्होंने यह भी कहा कि आगामी 8 -9 नवम्बर को नुक्कड़ सभा व पर्ची की वितरण,11 नवम्बर को प्रदेश स्तर पर रैली,12-13 नवम्बर को प्रत्येक प्रखंड में किसान चौपाल,14 नवम्बर को नेहरू जयंती व 15 नवम्बर को धरना दिया जायेगा. प्रेसवार्ता में मुख्य रूप से शिवधारी दुबे,रमाकांत सिंह,हाफिज मो.जुबैर आसिम,शशिभूषण तिवारी,राजा हुसैन,रिजवान अहमद,ओमप्रकाश मिश्र आदि लोग मौजूद थे.