दर्दनाक: हसनपुर में युवक की निर्मम हत्या, धारदार हथियार से दोनों आंखें निकालकर शरीर की कई नसें काट दीं

0

समस्तीपुर: जिले के हसनपुर थाना क्षेत्र के धबोलिया गांव से दो दिन पूर्व गायब 21 वर्षीय युवक का शव गांव के पोखर से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल समस्तीपुर भेज दिया गया है। मृत युवक के दोनों आंख किसी धारदार हथियार से क्रूरता पूर्वक निकाल लिया गया था। इसके अलावा उसके शरीर का सभी नस को भी काटकर हत्या करने के बाद शव को साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से पोखर में फेंक दिया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

मृत युवक की पहचान धबोलिया गांव के ही चंद्रशेखर राम के 21 वर्षीय पुत्र मिथलेश कुमार राम उर्फ लालू के रूप में की गई है। शव की शिनाख्त होते ही सैकड़ों ग्रामीणों ने हत्या के विरुद्ध हसनपुर – सखवा पथ पर बांस बल्ला लगाकर घंटों सड़क जाम कर आवागमन अवरुद्ध कर दिया। सड़क जाम की सूचना मिलते ही पुलिस निरीक्षक जयकांत साह,थानाध्यक्ष पंकज कुमार, अवर निरीक्षक अजित कुमार, विजय कुमार सिंह आदि पहुंचकर लोगों को इस हत्या कांड में शामिल अपराधियों की पहचान कर गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया।

इसके बाद करीब ढाई घंटे बाद जाम समाप्त हो सका। घटना के संबंध में बताया गया है कि मिथिलेश मंगलवार रात खाना खाने के लिए बैठा ही था कि इसी बीच किसी पहचान के लोगों ने आवाज देकर बाहर बुलाया। काफी देर तक लालू घर नहीं लौटा तो स्वजनों ने खोजबीन शुरु की। मगर कोई अता पता नहीं चलने पर बुधवार को थाने को सूचना दी। उक्त युवक की गायब होने की सूचना मिलते ही पुलिस अपने स्तर से बरामदगी के लिए खोजबीन शुरू कर दी। लेकिन पुलिस को भी कोई अता पता नहीं चल सका।

गुरुवार की सुबह गांव के कुछ लोग पोखर की ङ्क्षभडी पर मॉर्निंगवाक के लिए पहुंचे तो पोखर के पानी में एक शव को तैरते हुए देख जोर जोर से शोर मचाने लगे। शोर सुन आस पास के जुटे लोगों द्वारा पानी से शव को निकाला गया तो चंद्रशेखर राम का पुत्र मिथलेश कुमार राम निकला। इस क्रूरता पूर्वक हुई युवक की हत्या से आक्रोशित ग्रामीणों ने हसनपुर-सखवा पथ के धबोलिया गांव के निकट सड़क पर बांस बल्ला लगाकर सड़क जाम कर दिया।

सड़क जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने आक्रोशित ग्रामीणों किसी तरह समझा बुझाकर ढाई घंटे बाद सड़क जाम खाली कराते हुए पुलिस ने शव अपने कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल समस्तीपुर भेज सकी। समाचार प्रेषण तक घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है। घटना के संबंध में ग्रामीणों के बीच हो रही चर्चा के अनुसार मृत युवक को गांव के ही एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। प्रेमी और प्रेमिका अलग अलग जाति के होने के कारण युवती के स्वजनों को रास नहीं आ रहा था।

नतीजतन मंगलवार की रात युवती के स्वजनों द्वारा एक गहरी साजिश रच कर मिथलेश को किसी बहाने घर से बुलाकर उसकी नृशंस हत्या कर शव को पोखर के पानी में डूबो दिया। इस संबंध में थानाध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि मिथलेश को जिस क्रूरता से हत्या किया गया है। इससे प्रतीत होता है कि प्रेम प्रसंग के कारण ही हत्या की गई होगी। वैसे पुलिस सभी विन्दुओं पर नजर रखकर अनुसंधान कर रही है। जल्द ही मामले का उछ्वेदन कर दिया जाएगा।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here