उदयीमान सूर्य के अर्घ्य के साथ लोक आस्था का महापर्व संपन्न

0
chhath puja

सन्नी वर्मा/सीवान : जिले के बड़हरिया प्रखंड मुख्यालय सहित विभिन्न ग्रामीण इलाकों में मंगलवार को अस्ताचलगामी व बुधवार को उगते सूर्य को अघ्य देने के साथ ही लोक आस्था का महापर्व छठ संपन्न हो गया। बडहरिया प्रखंड के बड़हरिया, महमूदपुर, भीमपुर, पहाड़पुर, सदरपुर, बालापुर, हरदोबारा, बहादुरपुर, कैलगढ़, चौकी, दीनदयालपुर, नवलपुर, तेतहली, बहुआरा, पकड़ी, लकड़ी नबीगंज, रसुलपुर, कुडवा, कोइरीगांवा आदि छठ घाटों पर जनसैलाब उमड़ा था। सुबह तालाब, नदियों और बनाए गए कृत्रिम घाटों पर व्रती महिलाओं ने उगते सूर्य को अर्घ्य दिया। व्रतियों ने 36 घंटे से चला आ रहा व्रत सूर्य को अर्घ्य देने के बाद प्रसाद ग्रहण कर खोला। तड़के अंधेरे में ही श्रद्धालु नदी, नहर, पोखरों और कृत्रिम तालाबों के पास एकत्र हो गए।chhath घाटों पर बड़ी संख्या में भीड़ जुटी।तीन बजे से शुरू हो गया था घाटों पर आना कोसी भरने की परंपरा को पूरा करने के लिए व्रती महिलाएं रात तीन बजे ही घाटों पर पहुंचनी शुरू हो गई थीं। पूजास्थल पर तड़के से ही महिलाओं के गीत गूंज रहे थे। उसके बाद शुरू हुआ अर्घ्य देने का कार्यक्रम। सुबह हल्की धुंध थी, लेकिन जैसे ही सूर्य देवता उगते दिखाई दिए, व्रतियों ने उन्हें अर्घ्य देकर पूजा संपन्न की। इसके बाद सभी महिलाएं गीत गाती हुईं घरों को लौट गईं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal