सिवान के महाराजगंज में पीएनबी बैंक के कैशियर के साथ मारपीट, प्राथमिकी दर्ज

0
FIR

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के महराजगंज अनुमण्डल मुख्यालय स्थित पंजाब नेंशनल बैंक के कैशियर मुकेश कुमार राम को बैंक में ही एक व्यक्ति द्बारा गाली गलौज कर जान से मारने की धमकी दी है।बैंक कैशियर मुकेश कुमार राय ने थाने में आवेदन दिया है।प्राथमिकी में मुकेश ने कहा है कि 26 मई को मैं बैंक में कैश काउटर पर लगभग 4 बजे मैं अपने केबीन बंद कर कार्य कर रहा था, एक व्यक्ति मेरे कैबीन में जबरदस्ती धुस गया तथा पैसा जमा करने का दबाब बनाने लगा।मैने कहा कि अब पैसा जमा नहीं होगा।कम्प्यूटर बंद हो गया है तो उसने जाति सुचक गाली गलौज कर मारपीट करने पर उतारू हो गया।बैंक के कर्मचारियों के हस्तक्षेप से वह कैबीन से बाहर निकला।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

जाते जाते वह कहा कि बैंक से बाहर निकलो तुम्हारी हत्या करते है।कैशियर ने इसकी सुचना शाखा प्रबंधक को भी दी।इस संबंध में थानाध्यक्ष अकिल अहमद ने कहा कि पुलिस प्राथमिकी संख्या 123/ 2020 एससी/ एसटी दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर रही है।वही एक अन्य जमीनी विवाद के मामले महुआरी बिशुनपुर गांव में दो पक्षों में मारपीट हो गयी।मारपीट में एक पक्ष के कवल यादव जख्मी हो गए।

जख्मी के पत्नी अमरावती देवी के बयान पर महाराजगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई।प्राथमिकी में गांव के ही उतेश कुमार,मरझीया कुवंर,संजय प्रसाद सहित छः लोगों को आरोपित किया गया है।पुलिस मामले की छानबीन में लग गयी है।अप्रवासी मजदूरों के क्वारंटाइन नहीं होने से लोगों में रोष तरवारा।जीबीनगर थाना क्षेत्र के कई पंचायतों में अप्रवासी मजदूरों के क्वारंटाइन नहीं होने से लोगों में रोष हैं।

पंचायतों में अप्रवासी मजदूरों के आने के बाद उन्हें क्वारंटाइन नहीं किए जाने से पंचायत के लोगों में संक्रमण फैलने की संभावना बनी रहती है। लोगों के कहने के बावजूद भी जनप्रतिनिधियों की उदासीनता से उन्हें क्वारंटाइन नहीं किया जा रहा है।जिससे महामारी फैलने की संभावना बनी हुई है। अपराधी प्रवृत्ति या संभ्रांत परिवार के लोगों द्वारा जनप्रतिनिधियों के साथ दबंगई दिखाते हुए लोगों से मिलने जोड़ने का काम कर रहा है। वही जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रवासियों पर कोई दबाव नहीं बनाया जा रहा है। उन्हें इस बात का डर सताने लगा है।

कहीं दबाव बनाने पर उनका वोट बैंक खिसक न जाए। इस बात को लेकर जनप्रतिनिधियों द्वारा लोगों की शिकायतों दरकिनार किया जा रहा है जिससे लोग डरे व सहमे हुए हैं। गोरेयाकोठी सीओ विकास कुमार ने बताया कि रेड जोन से आनेवाले अप्रवासीयों मजदूरों को कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए हर हाल में क्वॉरेंटाइन किया जा रहा है। शिकायतें मिलने पर कार्रवाई की जा रही है।