सिवान सीट से एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान पर एके-47 से हमला करने के मामले में अप्राथमिकी अभियुक्त सल्लू को पुलिस ने दबोचा

0

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
सीवान सीट से एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान के काफिले पर चार अप्रैल की देर रात एके-47 से हमला करने के मामले में फरार चल रहे अप्राथमिकी अभियुक्त सह बड़हरिया निवासी सल्लू मियां को छपरा के अमनौर थाना क्षेत्र से पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है।गिरफ्तारी की सूचना मिलते हीं बड़हरिया सहित पूरे जिले में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।सभी अपने अपने स्तर से उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि करने में जुटे हुए हैं।यहां बताते चले कि एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान पर एकके 47 से फायरिंग की घटना के बाद सिवान नहीं बल्कि पूरे बिहार स्तर पर राजनीतिक तपिश काफी बढ़ गई थी।राजनीतिक तपिश बढ़ने का मुख्य कारण यह था कि इस मामले में सिवान के पूर्व दिवंगत सांसद डॉ. मोहम्मद शहाबुद्दीन के पुत्र ओसामा सहित कई नामी-गिरामी कुख्यात अपराध कर्मियों को एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान के लिखित तहरीर पर हुसैनगंज थाने में नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

जैसे हीं इस मामले में ओसामा का नाम सामने आया तो वैसे हीं सिवान के अलावा बिहार स्तर पर राजनीतिक तपिश काफी उफान मारने लगी।यहां बताते चले कि सल्लू की गिरफ्तारी के बाद से पुलिस अपने स्तर से एमएलसी पद के प्रत्याशी रईस खान पर हुए एकके 47 से फायरिंग मामले में पूछताछ कर रही है।हालांकि स्थानीय पुलिस द्वारा इसकी पुष्टि नहीं की गई कि उसकी गिरफ्तारी किस जिले की पुलिस द्वारा की गई है।उधर पुलिस जगत से ऐसी सूचना उभर कर सामने आ रही है कि उसकी गिरफ्तारी की सूचना पर हुसैनगंज थानाध्यक्ष श्री रामबालक यादव जो अमनौर थाना के लिए रवाना हो गए।इस मामले में हुसैनगंज थानाध्यक्ष श्री राम बालक यादव ने बताया कि रईस खान पर हमला करने के मामले में अप्राथमिकी अभियुक्त सल्लू मियां को अमनौर थाना की पुलिस टीम द्वारा गिरफ्तार किया गया है।जिसकी सूचना मुझे भी मिल रही है।सूचना को सत्यापित किया जा रहा है।

प्राप्त विवरण के मुताबिक अप्राथमिकी अभियुक्त सल्लू मियां पर बड़हरिया थाना में भी लूट की प्राथमिकी दर्ज है जो अभी अनुसंधान अंतर्गत है।उधर लूट कांड के संदर्भ में बड़हरिया थानाध्यक्ष श्री पंकज कुमार ने बताया कि इसकी सुपर विजन अभी तक वरीय पुलिस पदाधिकारी द्वारा नहीं की गई है।दर्ज कांड के अनुसंधानकर्ता द्वारा इस कांड का अनुसंधान विधिवत रूप से किया जा रहा है।उधर अप्राथमिकी अभियुक्त सल्लू की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर हीं रही थी की इसी बीच छपरा के अमनौर थाने की पुलिस टीम उसे धर दबोचा।वहीं चर्चाओं की मानें तो सल्लू बड़हरिया के एक जनप्रतिनिधि का पति भी बताया जाता है।ज्ञात हो कि चार अप्रैल को विधान पार्षद के चुनाव के बाद रईस खान का काफिला जो ग्यासपुर की ओर जा रहा था की इसी बीच अत्याधुनिक हथियार से लैस बदमाशों ने रईस खान के काफिला पर हमला कर दिया था।इस घटना में एक राहगीर व्यक्ति की मौत हो गई थी।

घटना की सूचना प्राप्त होते ही मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने मौके वारदात से अत्याधुनिक हथियारों का खोखा बरामद किया था।इस हमले में रईस खान के कई समर्थक भी सदिद तौर पर जख्मी हो गए थे।जिनको आनन-फानन में इलाज हेतु सिवान सदर अस्पताल में दाखिल कराया गया था।और घटना के बाद देखते हीं देखते उनके सैकड़ों समर्थकों का तांता सिवान सदर अस्पताल में लग गया था।यहां बताते चले कि पुलिस ने इस मामले में कुख्यात शूटर चवन्नी सिंह सहित अन्य लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।इसके अलावा दर्ज कांड के कई आरोपी भी जेल के सलाखों में बंद है।और अभी तक यह मामला पुलिस अनुसंधान अंतर्गत है।वहीं कांड के अनुसंधान के क्रम में सल्लू मियां का भी नाम पुलिस ने बाद में अप्राथमिकी अभियुक्त के रूप में जोड़ा था।इसके बाद से हीं पुलिस सल्लू की काफी सरगर्मी से तलाश कर रही थी और वह सिवान पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर फरार चल रहा था।बहरहाल मामला चाहे जो हो सल्लू की गिरफ्तारी जो संपूर्ण जिले में जंगल में लगी आग की तरह फैल गई है।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here