सिवान में भवन निर्माण के 14.84 लाख गबन मामले में होगी नीलामवाद की प्रक्रिया

2

परवेज अख्तर/सिवान : भवन निर्माण की राशि का गबन करने के आरोप में पचरुखी प्रखंड स्थित मध्य विद्यालय, के सेवानिवृत प्रधानाध्यापक बबन चौधरी पर विभाग द्वारा सर्टिफिकेट केस करने की तैयारी की जा रही है। बबन प्रसाद पर भवन निर्माण के लिए 14 लाख 84 हजार 688 रुपए गबन कर लेने का आरोप है। इस मामले में पूर्व में विभाग द्वारा प्राथमिकी भी दर्ज कराई जा चुकी है। इस संबंध में सर्व शिक्षा अभियान के डीपीओ अवधेश कुमार ने बताया कि बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा विभिन्न वित्तीय वर्ष में तत्कालीन प्रधानाध्यापक बबन चौधरी के कार्यकाल में 10 अतिरिक्त वर्ग कक्ष एवं एक संसाधन केंद्र के निर्माण के लिए 47 लाख 66 हजार 924 रुपए आवंटित किया गया था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

इस दौरान प्रधानाध्यापक द्वारा सभी योजनाओं में कुल 38 लाख दो हजार 840 रुपए का ही कार्य कराया गया और योजनाओं से संबंधित निर्गत समस्त राशि की निकासी तत्कालीन सचिव के साथ मिलकर कर ली गई। डीपीओ ने बताया कि समीक्षा के क्रम में कई बार उनसे विभागीय पत्र के माध्यम से राशि जमा करने का निर्देश दिया गया, परंतु उनके द्वारा विभागीय पत्र की अवहेलना की गई। इसके बाद 21 फरवरी 2018 को तत्कालीन प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी द्वारा उनके विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद भी बबन चौधरी द्वारा राशि जमा नहीं करने पर विभाग ने उनके खिलाफ नीलामवाद की कार्रवाई करने का फैसला किया है। डीपीओ ने बताया कि मामले में नीलामपत्र वाद दायर करने के लिए नजारत उपसमाहर्ता सह प्रभारी नीलामपत्र वाद पदाधिकारी को साक्ष्य के साथ पत्र समर्पित किया गया है।

2 टिप्पणी

Comments are closed.