रघुनाथपुर:- लगातार जीत दर्ज करने वाले पिछड़े वर्ग के पहले विधायक बने हरिशंकर

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
रघुनाथपुर विधानसभा क्षेत्र की कमान एकबार फिर से हरिशंकर यादव को मिल गयी है। इसी के साथ उनकी जवाबदेही भी बढ़ गयी है। अब हरिशंकर यादव अपनी दूसरी पारी में क्षेत्र के लिए कितना कुछ करते हैं यह तो आने वाला कल ही बताएगा। लेकिन, हरिशंकर यादव ने लगातार दूसरी बार जीत दर्ज करके रघुनाथपुर के लिए कीर्तिमान स्थापित किया है। रघुनाथपुर के इतिहास में यह पहला मौका है जब पिछड़े वर्ग के किसी विधायक ने लगातार दूसरी बार जीत दर्ज की हो। हरिशंकर यादव से पहले यहां से पिछड़ा वर्ग से कांग्रेस उम्मीदवार रामानन्द यादव 1952 से 1972 के बीच तीन बार विधायक रहे। हालांकि उन्होंने लगातार जीत दर्ज नहीं की। यहां से लगातार तीन बार जीत दर्ज करने का श्रेय महाराजगंज के नवनिर्वाचित विधायक विजय शंकर दुबे को जाता है। हालांकि वे चार बार यहां से विधायक रहे। वहीं दिवंगत जगमातो देवी को भी यहां के लोगों ने लगातार दो बार चुना था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

भूमिहार समाज से आने वाले दिवंगत रामदेव सिंह अलग-अलग टर्म में दो बार व श्रीनिवासन सिंह एक बार विधायक चुने गए थे। जबकि राजपूत समाज से पूर्व मंत्री विक्रम कुंवर 1977, 1995 व 2010 में विधायक चुने गए थे। रघुनाथपुर में हरिशंकर यादव को सभी लोगों से ज्यादा वोट पाने की उपलब्धि हासिल हुई है। यादव बिरादरी को छोड़ पिछड़ा वर्ग का अबतक कोई प्रत्याशी चुनाव नहीं जीत सका है। या यूं कहें कि किसी पार्टी ने जातीय समीकरण को लेकर अन्य बिरादरी के लोगों को तरजीह ही नहीं दी। हालांकि इस बार जदयू ने राजेश्वर चौहान को मौका तो दिया था, लेकिन उनके संगठन की कमजोरी, अचानक से मैदान में आने व लोजपा प्रत्याशी के पक्ष में बीजेपी के अनेक कार्यकर्ताओं की गोलबंदी के कारण इस चुनाव में तीसरे नम्बर पर चले गए। हालांकि राजेश्वर चौहान को 26056 लोगों ने वोट किया। इसमें महिलाओं का वोट प्रतिशत पुरुषों से ज्यादा है।