छापेमारी कर मैरवा में क्लीनिक किया गया सील

0
chhapemari

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के मैरवा थाना क्षेत्र के शिवपुर मठिया स्थित एसबीआई के पास एक प्राइवेट क्लीनिक पर बुधवार को जिला स्तरीय मेडिकल टीम ने छापेमारी की। उस समय क्लीनिक में चिकित्सक नहीं थे। वहां मौजूद मरीजों को एंबुलेंस बुलाकर मैरवा रेफरल अस्पताल भेज दिया गया। इसके बाद दंडाधिकारी की मौजूदगी में क्लीनिक सील कर दी गई। जिला प्रशासन द्वारा की गई इस कार्रवाई के बाद प्राइवेट क्लीनिक और नर्सिंग होम चलाने वाले चिकित्सकों में हड़कंप मच गया। मैरवा के अधिकांश प्राइवेट क्लीनिक बंद कर चिकित्सक फरार हो गए। कई अल्ट्रासाउंड केंद्र और पैथोलॉजी केंद्रों में भी ताला बंद कर संचालक भाग खड़े हुए। जानकारी के अनुसार जिला मलेरिया पदाधिकारी एमआर रंजन के नेतृत्व में गठित टीम मैरवा पहुंची थी। टीम ने अंचलाधिकारी सह दंडाधिकारी अरविंद प्रसाद और रेफरल अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. आरएन ओझा से संपर्क किया। स्थानीय पदाधिकारियों और पुलिस के साथ टीम शिवपुर मठिया नहर पुल के निकट चल रहे साईं बाबा एवं धर्मार्थ चिकित्सालय में छापेमारी की। उसमें मौजूद मरीजों और कर्मियों में हलचल मच गई। छापेमारी दल का नेतृत्व कर रहे डीएमओ डॉ. एमआर रंजन ने बताया कि उच्च न्यायालय के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए जिलाधिकारी ने जिला स्तरीय टीम का गठन किया है। उनके निर्देश पर गठित टीम ने 13 सितंबर को मैरवा में कुछ प्राइवेट क्लीनिक पर छापेमारी की थी, लेकिन चिकित्सक उस समय भी नहीं मिले थे। बाद में सिविल सर्जन ने उन्हें नोटिस भेजकर योग्यता प्रमाण पत्र की जांच के लिए उपस्थित होने को कहा था, लेकिन साईं बाबा एवं धर्मार्थ चिकित्सालय के चिकित्सक डॉ. अरविंद कुमार सिंह ने अपनी योग्यता प्रमाण पत्र प्रस्तुत नहीं किया। इसका प्रतिवेदन जिलाधिकारी को भेज दिया गया था। इसके बाद जिलाधिकारी ने अनुमंडल पदाधिकारी को आगे की कार्रवाई का निर्देश दिया। इसी निर्देश के आलोक में इस क्लीनिक को सील कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि जब टीम इस क्लीनिक में पहुंची तो उस समय दो मरीज और उनके परिजन वहां मौजूद थे। मरीजों को बेहतर इलाज के लिए रेफर अस्पताल भेज दिया गया।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here