सिवान: टीबी मरीजों के लिए आया एक्सरे मशीन एक साल से बेकार

0
  • मरीजों की सुविधाओं में बढ़ोत्तरी करते हुए इस डिजिटल एक्सरे मशीन को करीब एक साल पहले ही अस्पताल में लाया गया था
  • टेक्नीशियन के अभाव में बंद है जिला यक्ष्मा विभाग में लगा मशीन
  • मशीन को लेकर सिविल सर्जन को भी अवगत कराया जा चुका है
  • 03 महीने पहले स्टॉल किया गया है डिजिटल एक्सरे मशीन
  • 0 सौ में पचास संभावित मरीजों को एक्सरे करानी पड़ती है

परवेज अख्तर/सिवान: सदर अस्पताल के यक्ष्मा विभाग में लगा डिजिटल एक्सरे मशीन बेकार पड़ा है। लिहाजा जांच को लेकर अस्पताल आए मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। हालांकि वैकल्पिक तौर पर अस्पताल में सभी प्रकार के मरीजों के लिए लगाए गए एक्सरे मशीन से मरीज अपना एक्सरे कराते हैं। लाखों रुपए खर्च कर यक्ष्मा विभाग में लगायी गयी डिजिटल एक्सरे मशीन के संचालन न होने के पीछे इसका मुख्य कारण इससे संबंधित टेक्नीशियन का नहीं होना बताया जा रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

बताया जा रहा है मरीजों की सुविधाओं में बढ़ोत्तरी करते हुए इस डिजिटल एक्सरे मशीन को करीब एक साल पहले ही अस्पताल में लाया गया था। जबकि इंजीनियरों के समय से नहीं आने से इसे लगाने करने में इतनी देरी हुई। बीते करीब तीन माह पहले सभी बाधाओं को दूर करते हुए इसे सफलतापूर्वक स्टॉल कर दिया गया है। बावजूद इसके इसका लाभ अभी मरीजों को नहीं मिल रहा है। हालांकि विभाग का कहना है कि इसे लेकर सिविल सर्जन को भी अवगत कराया जा चुका है लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है।