सिवान: इमाम हुसैन की याद में ग्रामीण क्षेत्रों में निकाले गए रंग-बिरंगी ताजिया

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिला मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्रों में शनिवार की दोपहर मुहर्रम के 10 वें दिन पैगंबर मोहम्मद साहेब के नवासे इमाम हुसैन की करबला में शहादत को नम आंखों से याद किया गया। इस दौरान हजरत इमाम हुसैन की याद में ताजिया जुलूस निकाला गया। इस मौके पर या हुसैन या हुसैन के उद्घोष से पूरा वातावरण गूंज उठा। इस अवसर पर विभिन्न आकार व रंग-बिरंगी ताजिये आकर्षण का केंद्र रहा। ताजिया जुलूस अपने चौक से चल विभिन्न जगहों पर अन्य ताजिये से परंपरा के अनुसार मिलान कराता रहा। मौके पर युवाओं ने पारंपरिक हथियारों का करतब दिखा लोगों का खूब मनोरंजन किया। वहीं दूसरी ओर शिया समुदाय के लोगों ने कलाम पढ़ते हुए हुसैन की याद में जंजीरी मातम मनाया। सुरक्षा व्यवस्था को ले प्रशासन अलर्ट रहा। जगह-जगह पुलिस बल की तैनाती की गई थी। प्रशासनिक पदाधिकारी गश्त करते रहे। इस दौरान ढोल ताशों से पूरा वातावरण गूंज उठा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

शिया समुदाय के लोगों ने मनाया जंजीरी मातम :

मुहर्रम जुलूस के दौरान शिया समुदाय के लोगों ने जंजीरी मातम मनाया। इस दौरान कलाम पढ़ते हुए हुसैन की याद में छाती पीटते और नुकीले ब्लेड से अपनी पीठ पर वार करते रहे। हुसैनगंज हवेली समेत हरिहांस, फाजिलपुर, बघौनी, खरसंडा, खैरांटी, भगवानपुर हाट के ब्रह्मस्थान के अब्बास नगर, सिसवन के भीखपुर में इमाम हुसैन की शहादत की याद में जंजीरी मातम मनाया गया। इसके अलावा अन्य जगहों पर शिया समुदाय के मुसलमानों ने जंजीरी मातम मनाया।

युवाओं ने दिखाया करतब :

मुर्हरम जुलूस के दौरान युवाओं ने लाठी-डंडी व पारंपरिक हथियार से करतब दिखा उपस्थित लोगों का मनोरंजन किया। इस दौरान युवा लाठी, तलवार आदि का प्रदर्शन किया। बुजुर्गों ने भी युवाओं के साथ अपना कला का प्रदर्शन कर युवाओं में उत्साह भरा। इस मौके पर उपस्थित लोग उनका हौसला बढ़ाते रहे।

रंग-बिरंगी ताजिया रही आकर्षण का केंद्र :

महाराजगंज, दारौंदा, मैरवा, भगवानपुर हाट, लकड़ी नबीगंज, बसंतपुर, बड़हरिया, रघुनाथपुर, आंदर, पचरुखी, गुठनी, जीरादेई, हसनपुरा, हुसैनगंज, गोरेयाकोठी आदि प्रखंडों में विभिन्न आकार के रंग-बिरंगी ताजिया आकर्षण का केंद्र रहा। इसे देख लोग आश्चर्य में थे और कारीगरी की प्रशंसा करते नहीं थके। वहीं हुसैनगंज एवं बड़हरिया के माधवपुर में लड़ाकू विमान राफेल के प्रदर्शन को लोगों ने खूब सराहा।