सिवान: माले नेता से अपराधियों ने मांगी 20 लाख की रंगदारी, दहसत का माहौल

0
  • अपराधियो ने पत्र और कारतूस के माध्यम से मांगा है रंदारी, दी है एक सप्ताह की समय
  • मामला दरौंदा थाना क्षेत्र के रुकुन्दी पुर गांव का

परवेज अख्तर/सिवान: जिले में आजकल हत्या ,लूट ,रंगदारी सहित अन्य आपराधिक मामलो का काफी बोलबाला है.प्रतिदिन कहीं न कही अपराधी किसी न किसी घटनाओं को अंजाम देते रह रहे है.खास तौर पर सिवान एक ऐसा जिला बन गया है जहां प्रतिदिन क्राइम का मामला सामने आ रहा है.इसी बीच दरौंदा थाना क्षेत्र के रुकुन्दीपुर गांव में संध्या में ही अपराधियो ने घर के दरवाजे पर बम फेक एक पत्र और एक जिंदा कारतूस के माध्यम से रंगदारी मांगी है.बताते चले कि गुरुवार की संध्या तकरीबन 8:20 बज रहे थे.और रुकुन्दीपुर गांव में कोई खाना खा रहा था तो कोई खाने की तैयारी में था.तभी रुकुन्दीपुर निवासी रिटायर्ड शिक्षक और माले नेता राघो प्रसाद के दरवाजे पर बेखौफ अपराधियो ने बम फेक दिया.बम की आवाज सुन जब परिजन बाहर निकले तो देखा कि दरवाजे पर एक पत्र है और पत्र में जिंदा कारतूस फेक हुआ है.जब परिजनों ने उसे उठा कर पढ़ा तो पत्र के माध्यम से अपराधियों ने रंगदारी की मांग की है.चिट्ठी में कारतूस देकर अपनी मंशा को अपराधियों ने जाहिर की है.अपराधियों ने पत्र में लिखा है कि एक सप्ताह के अंदर 20 लाख की रंगदारी देनी पड़ेगी. रंगदारी नहीं देने पर घर के चारों तरफ बम लगाकर पूरे परिवार को उड़ा दिया जाएगा. अपराधियों द्वारा फेके गए बम के टुकड़े दरवाजे पर बिखरे पड़े थे.तभी आनन फानन में परिजनों ने इसकी सूचना एसडीपीओ महाराजगंज पोलस्त कुमार को दी.इसके बाद थानाध्यक्ष दरौंदा अजीत कुमार सिंह को घटना की जानकारी दी गई. सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची।. पुलिस ने पत्र, कारतूस व अपराधियों द्वारा फोड़े गए बम के अवशेष को भी बरामद किया है. घटना के बाद से पूरा परिवार दहशत में जी रहा है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

अपराधियों की नही हुई गिरफ्तारी तो होगी आंदोलन

माले नेता जय शंकर पंडित ने कहा कि 7 सितम्बर को दरौंदा फ्लिप कार्ट का डिलेवरी बॉय गायब है. लेकिन अभी तक प्रशासन ने कोई जांच नही किया और अब भाकपा माले कार्यकर्ता राघो प्रसाद पर बम से हमला कर दिया गया. हमलावरों ने साफ तौर पर कहा कि इसके पहले अंजाम आप देख चुके है इससे प्रतीत होता है कि पूर्व में जो घटाएं रुकुन्दीपुर में हुए है वही अपराधी इस घटना में शामिल है. अगर माले कार्यकर्ता पर हमला करने वालो को अपराधियो को गिरफ्तार नही किया गया तो आंदोलन किया जाएगा.