सिवान: ब्रांडेड कंपनियों के लेबल लगाकर नकली सामान बेचने वाले गिरोह का भंडाफोड़

0
  • वर्षो से चलता आ रहा था गोरख धंधा
  • छापेमारी के बाद मची हड़कम्प

परवेज अख्तर/सिवान: मुंबई की निजी खुफिया एजेंसी, अनुसंधान डिटेक्टिव प्राइवेट लिमिटेड की सूचना पर आंदर थाने की पुलिस ने फिरोजपुर गांव के एक मकान पर छापा मारकर देश की नामी कंपनियों के लेवल लगाकर नकली सामान बेचने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया. हालांकि पुलिस को देख आरोपी फरार हो गए. पुलिस ने मौके से बड़ी मात्रा में नकली सामान भी बरामद किया.जिसमें डाबर गुलाब जल के हजारों बोतल नकली , चायपत्ती के नकली पाउच समेत अन्य चीजें शामिल है. दरअसल इस मकान में जैस्मिन तेल, चायपत्ती समेत अन्य उत्पाद बनाने वाली नामी कंपनियों, जैसे डाबर इंडिया लिमिटेड, टाटा ग्लोबल बेवरेज, के लेवल लगाकर नकली सामान को ब्राडेड कंपनी के उत्पाद का रूप दिया जाता था.उसके बाद उसे बाजार में बेचा जाता था. बताया जाता है कि मुम्बई की निजी खुफिया एजेंसी, अनुसंधान डिटेक्टिव प्राइवेट लिमिटेड के शीतल कुमार झा ने कहा की मैं मुंबई डाबर इंडिया लिमिटेड द्वारा क० सुमर केयर लिमिटेड व रैकी बैंकर लिमिटेड कंपनी ने मुझे अपने नकली समान पर कार्यवाही के लिए अधिकृत किया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ad-mukhiya

WhatsApp Image 2021 09 27 at 8.51.02 PM 1

कुछ दिन पहले सीवान सदर एसडीपी को मैने शिकायत किया कि आंदर के फिरोजपुर गांव में ब्राडेड कंपनियों के लेबल लगाकर नकली उत्पाद तैयार करने वाले गिरोह के सक्रिय होने की आशंका जताई थी और स्थानीय पुलिस के सहयोग और जांच करने की अनुमति मांगी गई थी.जहां हमारी टीम सिवान पहुँची और स्थानीय पुलिस के सहयोग से नगर थाना क्षेत्र के फिरोजपुर गांव में छापेमारी की गई जहां पुलिस को देखते ही आरोपी फरार हो गए वहीं मकान में मौजूद महिलाएं पाई गई जहां छापे में डाबर इंडिया लिमिटेड, टाटा ग्लोबल बेवरेज जैसी नामी कंपनियों के लेवल व रैपर, पैकिंग में प्रयोग की जाने वाली समाग्री,टाटा के विभिन्न प्रकार के चायपति 5604 पीस पैक व 10046 खाली पैक,डिटॉल के 7208 बोतल पैक ,खाली पैक 3480 और 9002 स्टीकर वही गुलाब जल के 1884 पैक बोतल बरामद की गई.जबकि एक अन्य सामग्री भी बरामद की गई.

giraftar 3 1

ऐसे कर सकते नकली प्रोडक्ट व पैकेजिंग की पहचान

chapemari

कंपनी के शीतल झा ने बताया कि नकली सामान की पैकेटिंग पहली नजर में भले ही असली सी लगे, लेकिन गौर करने पर इसकी पैकेटिंग में काफी त्रुटि होती है. इसमें व्याकरण की कई गलतियां होती हैं. पैकेट में प्रोडक्ट के नाम में व्याकरण या मात्राओं की त्रुटि रहती है.

नकली पैकेट में बेमेल और चूक वाली होती ह प्रिंटिंग हो

WhatsApp Image 2021 09 27 at 8.51.00 PM

अच्छी कंपनियां अपने प्रोडक्ट्स की पैकिंग पर कुछ फीचर्स जैसे कोड्स, सीरियल या मॉडल नंबर, ट्रेडमार्क, पेटेंट की जानकारी लिखती है. ये नकली पैकेट में अक्सर गायब रहते हैं, या कॉपी किए गए होते हैं.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here