सिवान: योजनाओं का लाभ व प्रशिक्षण लेने वाले किसान कितने हुए जागरूक, होगा सर्वे

0

परवेज अख्तर/सिवान: आत्मा द्वारा सामग्री उपलब्ध कराने के साथ-साथ किसानों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है, ताकि किसान आधुनिक कृषि तकनीकी को अपनाकर अपनी आमदनी को बढ़ा सकें लेकिन योजनाओं के क्रियान्वयन के बाद किसान कितना जागरूक हुए हैं, इसकी सही जानकारी विभाग को भी नहीं मिल रही है। इसके लिए आत्मा द्वारा सर्वेक्षण कराया जाएगा। जानकारी के अनुसार विभाग द्वारा दिए गए सहयोग के बाद किसान नई तकनीक को कितना अपना रहे हैं और नहीं अपना रहे हैं, तो इसका कारण क्या है। यह जानकारी जुटाने के लिए सर्वे कराया जाएगा ताकि नई तकनीक को अपनाने में क्या समस्या आ रही है और जो किसान इसे अपनाना नहीं चाह रहे तो उसके पीछे कारण क्या है, आदि की जानकारी जुटाकर तमाम समस्याओं का आकलन कर सरकार द्वारा नए सिरे से नीति निर्धारित की जाएगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

विविध विषयों की जानकारी को ले होगा सर्वे :

ब्लैक राइस की खेती के बाद जिक युक्त गेहूं की खेती के लिए डेमोस्ट्रेशन किया गया था। इसकी उपज भी काफी बेहतर हुई है, लेकिन इसका असर किसानों पर कितना पड़ा है। किसान इससे कितने प्रभावित हुए। इसकी जानकारी के लिए कृषि विभाग के विशेष सचिव द्वारा सर्वे कराने का निर्देश दिया गया है। इस दौरान यह भी पता लगाया जाएगा कि अगले सीजन में जिक युक्त गेहूं की खेती के लिए कितने किसान तैयार है। यदि किसान इसकी खेती के प्रति इच्छुक नही हैं तो इसका कारण क्या है। सर्वे के दौरान इन तमाम बातों की जानकारी ली जाएगी।

कहते हैं जिम्मेदार :

किसानों को आर्थिक रूप से सु²ढ़ बनाने एवं आम लोगों को पोषक तत्व युक्त खाने की चीजें मिल सकें, इसके लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। इन योजनाओं का लाभ किसानों को मिल रहा है या नहीं इसको लेकर भी सर्वे कार्य कराया जाएगा।

जयराम पाल, जिला कृषि पदाधिकारी, सिवान

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here