सिवान: राजस्व विभाग की बैठक में एडीएम ने पदाधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देश

0

परवेज अख्तर/सिवान: समाहरणालय सभागार में मंगलवार काे राजस्व की विस्तृत समीक्षा बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता एडीएम जावेद अहसन अंसारी ने की। इस दौरान उपस्थित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए गए। बैठक के क्रम में अतिक्रमणवाद, लगान वसूली, भूमि विवाद, आपदा से संबंधित, कब्रिस्तान घेराबंदी, दाखिल खारिज आदि के संबंध में बिंदुवार समीक्षा की गई। एडीएम ने सभी सीओ को दस दिनों के अंदर सभी अतिक्रमणवाद के लंबित मामले को निष्पादित करने के लिए जरूरी निर्देश दिए। वहीं प्रखंडों के पदाधिकारियों को अंचल में बैठकर सभी अतिक्रमण बाद की समस्या का निवारण करना सुनिश्चित करने को कहा गया। सभी अंचलाधिकारियों को अस्थाई और स्थाई अतिक्रमण का स्वयं भौतिक सत्यापन कर एक सप्ताह के अंदर हटाने को कहा गया।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

एडीएम ने सभी अंचलाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया कि भूमि विवाद की समस्या को सर्वोच्च प्राथमिकता दें। सीडब्ल्यूजेसी व एमजेसी के लंबित मामलों का त्वरित कार्रवाई करते हुए यथाशीघ्र निष्पादन का निर्देश दिया गया। आपदा के लंबित मामलों की भी विस्तृत समीक्षा की गई। रोड एक्सीडेंट में मृत्यु के उपरांत उनके निकटतम संबंधी को सरकार के द्वारा सहायता राशि के लिए 15 दिन के अंदर प्रस्ताव देने को कहा गया। दाखिल खारिज के संबंध में भी कई आवश्यक निर्देश दिए गए। दाखिल खारिज के संबंध में सभी अंचलाधिकारी को कई आवश्यक निर्देश दिए। साथ ही भू लगान वसूली आनलाइन से प्राथमिकता देने के संबंध में अंचलाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिया गया। सभी संबंधित पदाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया गया कि समय सीमा के भीतर एसओएफ प्रस्तुत करने एफिडेविट, काउंटर एफिडेविट दायर करने अथवा ओथ लेने संबंधित आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करें। इस क्रम में सभी को निर्देश दिया गया कि एसओएफ को अच्छी तरीके से तैयार करें एवं सीडब्ल्यूजेसी व एमजेसी के मामलों का कंडिकावार विषय वस्तु सहित विवरणी उपलब्ध कराएं। इसके साथ ही संबंधित मामलों का संक्षिप्त रिपोर्ट भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करे। समीक्षा बैठक में सदर अनुमंडल पदाधिकारी रामबाबू बैठा, अपर समाहर्ता प्रियंका कुमारी सहित सभी अंचलाधिकारी उपस्थित थे।