सीवान में सनकी पति ने अपने पुरे परिवार को टांगी से काट डाला, बाद में खुद खाया जहर

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र के बलहा अलिमर्दनपुर गांव में सोमवार की देर रात एक सनकी पति ने पत्‍नी समेत अपने पांच बच्‍चों को टांगी से काट डाला। इनमें से चार बच्‍चों की मौत हो गई है, जबकि पत्‍नी और एक अन्‍य बच्‍चा सदीद तौर पर जख्मी है। सदर अस्पताल में इलाज के पश्चात दोनों घायलों को बेहतर इलाज के लिए पटना के पीएमसीएच रेफर किया गया है। मृतकों में एक पुत्री व तीन पुत्र शामिल हैं। आरोपित का कहना है कि उसने वारदात को अंजाम देने के बाद खुद भी जहर खा‍ लिया है। वह खुद पुलिस तक पहुंचा था। अब उसका इलाज सिवान के सदर अस्‍पताल में चल रहा है। उसने पुलिस के समक्ष कई अजीब बातें बताई है, जिससे पता चलता है कि उसका मानसिक संतुलन पूरी तरह बिगड़ा चुका है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

rote hue parijan

बोला- मेरे अंदर एक हवा प्रवेश कर गई, जो मिला उसे मारता गया

सोमवार की देर रात हुई इस दिल दहला देने वाली इस घटना को जो भी सुन रहा है, उसके रौंगटे खड़े हो जा रहे है। मरने वालों में बलहा अलिमर्दनपुर के रहने वाले अवधेश चौधरी की बेटी ज्योति कुमारी (17 वर्ष), तीन बेटे अभिषेक कुमार (15वर्ष), नीतीश कुमार उर्फ भोला (12 वर्ष) और मुकेश (सात वर्ष) शामिल हैं। वहीं पत्नी रीता देवी और एक बेटी अंजली कुमारी पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (पीएमसीएच) रेफर हैं। सनकी पति अवधेश चौधरी ने भी पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि मैं टहलने के लिए गया था, तभी अचानक मेरे शरीर में एक हवा प्रवेश कर गई और उसके बाद से मुझे यह लगा कि सामने जो व्यक्ति आएगा उसे मार देना है। इसके बाद मेरे ही बच्चे और पत्नी सामने आए और मैं उन्हें मारता चला गया।

apradhi

वारदात को अंजाम देने के बाद उसने खुद किया डीएम को फोन

अवधेश ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद वह थाना  की तरफ चला गया। वहां उसने किसी तरह डीएम का नंबर लिया और कॉल लगाई। उसका कहना है कि डीएम के नंबर पर कॉल रिसीव नहीं होने के बाद वह घर की तरफ लौटने लगा। इसी बीच रास्‍ते में उसे भगवानपुर पुलिस गश्ती दल ने रोका तो उसने घटना की जानकारी उन्हें दी। पूरा वाकया सुनकर हैरान पुलिस वालों ने तुरंत उसे अपनी गाड़ी में बैठाया और उसके घर पहुंचे। उसके घर पहुंचने पर पुलिस वालों ने देखा कि वहां चार लोगों के शव खून से लथपथ पड़े हैं। उसकी पत्‍नी और एक बेटे की सांस अभी चल रही थी, जिन्हें पुलिस ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। सदर अस्‍पताल में प्राथमिक उपचार के बाद दोनों की गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया।

siwan sadar aspatal

हत्या के बाद खुद पर छिड़क लिया केरोसिन, खाया जहर

अवधेश कुमार चौधरी का यह भी कहना है कि उसने वारदात को अंजाम देने के बाद स्वयं भी आत्महत्या करने की कोशिश की। उसने घर में रखे मिट्टी के तेल को अपने ऊपर छिड़क लिया और घर में रखे जहर या ज्वलनशील पदार्थ को खा लिया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार करते हुए इलाज के लिए सदर अस्‍पताल में भर्ती कराया है। इस दिल दहला देने वाली घटना के बाद पुलिस ने घर को सील कर दिया है। पुलिस का कहना है कि आगे जांच के वक्‍त ही घर को खोला जाएगा।

apradhi ka ghar