सीवान में रेलवे पुल पर चलते समय ट्रेन की चपेट में आने से चार की मौत, कई घायल

0
siwan news in hindi

प्रवेज़ अख्तर/सिवान
पूर्वोत्तर रेलवे के सीवान – थावे रेल खण्ड पर शुक्रवार की अहले सुबह सीवान कचहरी रेलवे स्टेशन के समीप कई लोग चलती ट्रेन की चपेट में आ गये. जिनमे से चार की दर्दनाक मौत हो गयी जबकि एक बच्चा समेत दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं। हादसा सीवान कचहरी रेलवे स्टेशन के नवलपुर-कंधवारा पुल पर हुआ। ये सभी लोग गोपालगंज जिले के कुचायकोट थाना क्षेत्र के हसना गांव के है निवासी हैं। घटना के संबंध में बताया जाता है कि ये सभी लोग शुक्रवार की सुबह ही गोपालगंज से आने वाली पैसेंजर ट्रेन से सभी कचहरी रेलवे स्टेशन पर उतर रेलवे ब्रिज के सहारे नवलपुर मजार पर जा रहे थे। इसी दरम्यान सीवान जंक्शन से गोरखपुर जाने वाली 55075 पैसेंजर एक्सप्रेस उधर से आ गयी. घने कोहरे व कुहासे के कारण किसी को ट्रेन के आने का पता नहीं चला और सभी उसकी चपेट में आ गये जिससे चार महिलाओं की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि दो घायल हो गये जबकि कई लोगों ने पुल से कूद कर अपनी जान बचायी।

siwan news in hindi

घटना के बाद से पुरे इलाके में कोहराम मच गया है फिलहाल सभी घायलों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहाँ उनकी हालत नाजुक बाताई जा रही है। वहीं जीआरपी ने शवो को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है। वही स्थानीय प्रशासन व रेलवे के द्वारा इस भीषण हादसे में शिकार सभी लोगों की पहचान कर ली गई है।

train hadse me char ki maut

जिला प्रशासन व रेलवे सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस हादसे में पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आने से चार लोगों की मौत हो गयी। वहीं, हादसे में एक दो वर्षीय मासूम गंभीर रूप से जख्मी हो गया। इस दौरान सात लोगों ने पुल से कूद कर अपनी जान बचायी। सभी मृतक गोपालगंज जिले के रहनेवाले हैं. मृतकों में गोपालगंज जिले के कुचायकोट की सरस्वती देवी, सासामुसा हंसना गांव की खुशबू निशा, गोपालगंज के इंदरवा गांव की निशा तथा बथुआ बाजार के तकिया गांव के मोहम्मद असलम शामिल हैं। घायल दो वर्षीय बच्चा मुन्ना उर्फ शमशेर को गंभीर स्थिति में पीएमसीएच रेफर किया गया है। प्रशासनिक व रेलवे सूत्रों के अनुसार गुरुवार को सीवान के यूनानी कॉलेज के सामने स्थित तकिया में इबादत करने आये थे।

शुक्रवार की सुबह जब आजान खत्म होने के बाद करीब 11 लोग ट्रेन पकड़ने के लिए रेल लाइन व पुल के सहारे कचहरी स्टेशन आ रहे थे सभी लोग रेल पुल पर ही थे कि सीवान जंक्शन से 55075 अप सवारी गाड़ी आ गयी। लोगों ने बताया कि कुहासे के कारण दूर से ट्रेन दिखायी नहीं दी तथा पास में आ जाने पर ट्रेन का पता चला पास में अचानक ट्रेन देख कर सात लोगों ने तो कूद कर जान बचा ली, परंतु चार लोग ट्रेन की चपेट में आ गये। घटना की जानकारी ट्रेन में सफर कर रहे एक रेल यात्री ने सिविल सर्जन सीवान डॉक्टर शिवचंद्र झा को दी। सूचना मिलते ही सिविल सर्जन ने राहत कार्य के लिए 102 एंबुलेंस से मेडिकल टीम को भेजा और घायलों को उपचार के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। इधर, सूचना मिलते ही जिलाधिकारी महेंद्र कुमार, पुलिस अधीक्षक नवीनचंद्र झा ,सिविल एसडीओ अमन समीर एएसपी कार्तिकेय शर्मा ,नगर इंस्पेक्टर सुबोध कुमार ,सदर अस्पताल पहुंचे तथा घायलों के इलाज में जुट गये। जिलाधिकारी महेंद्र कुमार ने बताया कि सभी मृतकों के परिवार को चार-चार लाख रुपये जिला प्रशासन की ओर से दिया जायेगा। घायल बच्चे को इलाज के लिए पीएमसीएच भेजा गया है। जिला प्रशासन इस बात की जांच कर रहा है कि ट्रेन के चालक की गलती से दुर्घटना हुई है या मृतकों की गलती से। साथ ही यह भी जांच की जा रही है कि मानव रहित फाटक पर पुल पार करने के दौरान ट्रेन के चालक ने सिटी बजायी थी या नहीं है कि नहीं।