सिवान: चंद मिनटों में 9 किलो सोना और 8 किलो चांदी लूट लिए लुटेरे

0
  • लूटने के बाद दक्षिण दिशा में फरार हुए अपराधी
  • चार बाइक पर आठ अपराधी थे सवार

परवेज अख्तर/सिवान: सोमवार की शाम करीब पौने सात बजे सिवान शहर के व्यस्तम इलाका कसेरा टोली मोड़ के समीप स्थित चर्चित अर्चना ज्वेलर्स में बाइक सवार आठ अपराधियों ने धावा बोल दिया.और चंद मिनटो में ही अपराधी 9 किलो सोना और आठ किलो चांदी लूट कर फरार हो गये.घटना के सम्बंध में घायल आभूषण दुकान मालिक सुरेश प्रसाद उर्फ सुभाष प्रसाद ने अपने फर्द बयान में कहा है कि हमलोग दुकान में थे तबतक दुकान में आठ की संख्या में अपराधी प्रवेश किये और दुकान में लूट पाट करने लगे तभी हमने इसका विरोध किया तब एक अपराधी ने मेरे ऊपर गोली चला दिया लेकिन गोली मेरे पैर के जांघ लग गयी और मैं खून से लताफत हो गया.जिसके बाद मेरे गले का सोने चैन एक अपराधी ने निकाल लिया.गोली लगने के बाद सभी लोगो को बंधक बनाते हुए दुकान के सभी जेवर जिसमे 9 किलो सोना और 8 किलो चांदी लेकर फरार हो गए.उन्होंने यह भी कहा है कि लुटे गये सभी आभूषणों की कीमत तकरीबन चार करोड़ रुपये बताई गई है.उन्होंने यह भी कहा कि लूट करने वाले सभी अपराधीयो की उम्र 20 से 25 वर्ष तक कि थी.लेकिन खास बात यह है कि सभी अपराधी भोजपुरी भाषा में बातें कर रहे थे.उन्होंने अपने फर्द बयान में यह भी कहा है कि सभी अपराधी रेसिंग बाइक और स्प्लेंडर पर थे और लूट के बाद दक्षिण दिशा की ओर फरार हो गए.इधर पुलिस ने पीड़ित के फर्द बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ad-mukhiya

एक पहना था टोपी तो दो हेलमेट और मास्क

उन्होंने अपने आवेदन में यह भी कहा हैं कि लूटने आये आठो अपराधियो में एक टोपी और दो मास्क जबकि सभी अपने चेहरे को छुपाने के लिए मास्क पहने हुए थे. इधर घटना के बाद सभी अपराधी दहशत मचाने के उद्देश्य से हथियार लहराते हुए फरार हो गए।

रैकी के बाद दिया गया घटना को अंजाम

आभूषण दुकान में लूट की घटना को अंजाम देने के लिए अपराधियो ने पहले रैकी किया जिसके बाद लूट की घटना को अंजाम दिया गया.और घटना को अंजाम देने के बाद आराम से फरार हो गए.

गस्ती के मौजूदगी में भी हो गयी लूट

शहर में चोरी लूट ,हत्या आम बात हो गया है.अपराधी पुलिस गस्ती से भी नही डरते है.क्योंकि लूट की घटना तकरीबन सात बजे हुई और नगर थाने की पुलिस गस्ती भी उसी क्षेत्र में गस्ती कर रही थी लेकिन उसके बावजूद भी लूट हो गयी.