सिवान: वैशाली एक्सप्रेस में सीट पर छूटे एक लाख रुपए सहित जैकेट को आरपीएफ ने बरामद कर सौंपा

0

परवेज अख्तर/सिवान: नई दिल्ली से सहरसा को जाने वाली 12554 वैशाली सुपरफास्ट के एसी बोगी में सीवान के एक यात्री का उतरने के जैकेट में रखे एक लाख सहित जैकेट ट्रेरेन में छूट गया. रेल यात्री ने इसकी सूचना सीवान जंक्शन के आरपीएफ पोस्ट दिया. आरपीएफ के अधिकारियों ने मुख्यालय से बाहर रहने वाले हेड कांस्टेबल कुमार प्रियरंजन को इसकी सूचना दी. सूचना मिलते ही कुमार रंजन ने जैकेट एवं रुपए बरामद किया. बताया जाता है कि गोरियाकोठी खाने के पश्चिम मठिया गांव निवासी स्वर्गीय उमा शंकर भारती के पुत्र राकेश भारती वैशाली ट्रेन से गाजियाबाद से सीवान बी सिक्स वातानुकूलित कोच में बर्थ संख्या 25 पर यात्रा करते हुए सीवान पहुंचे. सीवान जंक्शन पर उतरने केे दौरान सीट पर उन्होंने अपना जैकेट छोड़ दिया जिसमें एक लाख रुपए थे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

बताया जाता है कि गाड़ी के प्रस्थान होने के उपरांत जब यात्री को पता चला तो तुरंत आरपीएफ सीवान से संपर्क किया आरपीएफ द्वारा तत्काल इसकी सूचना सर्व संबंधित को नोट कराते हुए रिकवर करने का प्रयास किया गया लगभग 10 मिनट बाद ही मुख्यालय से बाहर रहे हेड कांस्टेबल कुमार प्रियरंजन रेलवे सुरक्षा बल पोस्ट सीवान जंक्शन के द्वारा अथक प्रयास करने के उपरांत उक्त जैकेट एवं रुपए को हेड कांस्टेबल मुनेंद्र राय से बरामद करवाया गया. चुकी रुपए ज्यादा था लिहाजा हेरफेर ना हो इसलिए उक्त रिकवरी के दौरान हेड कांस्टेबल प्रियरंजन द्वारा वीडियो कॉलिंग के माध्यम से उक्त रिकवरी कराई गई ताकि पारदर्शिता बनी रहे .इस वीडियो कॉलिंग में उपरोक्त यात्री को भी सम्मिलित रखा गया था.उपरोक्त बरामद एक लाख रुपए एवं जैकेट को उपरोक्त यात्री को सीवान बल पोस्ट पर बुलाकर ठीक-ठीक उपनिरीक्षक सुरेश चंद्र पांडे द्वारा समय 18:10 बजे सुपुर्द किया गया.आरपीएफ सीवान द्वारा उपरोक्त यात्री के रुपए रिकवरी में मुख्यालय से बाहर रहे हेड कांस्टेबल कुमार प्रियरंजन का पूर्ण भूमिका एवं श्रेय होना बताया जा रहा है.