सिवान: 22 धूर जमीन के लिए शिक्षक प्रमोद पांडे की गोली मारकर हुई हत्या

0

पुलिस व सीओ से शिकायत करने के बाद नहीं हुई कार्रवाई

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के आसांव थाने के बभनौली गांव के समीप शुक्रवार की सुबह करीब पौने नौ बजे बाइक पर सवार अपराधियों ने 22 धूर जमीन को ले एक सरकारी स्कूल के शिक्षक को गोलियों से भून कर हत्या कर दी थी. मृत शिक्षक की पहचान असांव थाने के पचबेनिया गांव निवासी प्रमोद पांडे उर्फ डब्ल्यू पांडे के रुप में हुई थी. घटना के बाद मृत शिक्षक के पिता जमीनी विवाद में हत्या की बात चिल्लाकर कर कह रहे थे. घटना के संबंध में मृत शिक्षक प्रमोद पांडे के पिता त्रिभुवन पांडे ने बताया कि गांव निवासी आरोपित के परिवार से दशको से जमीनी विवाद चल रहा था. उनके हिस्से की 22 धूर जमीन को ले तो वर्ष 1968 से विवाद चल रहा था. दो से तीन वर्ष पहले तक उक्त जमीन पर उनका कब्जा था. उनके पक्ष में ही न्यायालय ने भी फैसला सुनाया था.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

बीते-तीन वर्ष पूर्व आरोपित व उनके बेटों ने दबंगई व पुलिस की शह पर जमीन पर कब्जा जमा लिया. उक्त जमीन उनके घर के समीप व मृत शिक्षक के बंगले के पास मौजूद है. मृत शिक्षक के पिता ने बताया कि उस जमीन पर आरोपितों ने दबंगई के बल पर बाउंड़ीवाल चलाकर कब्जा जमा लिया. उक्त 22 धूर जमीन को ले आरोपितों ने मेरे बेटे को मौत के घाट उतारा है. जमीन पर कब्जा जमाने पर स्थानीय पुलिस व सीओ को आवेदन दिया गया परंतु पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. उक्त जमीन के विवाद में ही आरोपियों ने मेरे बेटे को मौत के घाट उतार दिया है. इस मामले को ले दो वर्ष पहले रास्ते में घेर कर आरोपितों ने भी मारपीट की थी.