मां के सामने बेटे ने खुद को मार ली गोली, बेहद दर्दनाक है आत्महत्या के लिए मजबूर होने की कहानी

0
goli

पटना: एक बेटे ने अपनी मां की आंखों के सामने ही खुद के सिर में गोली मार ली। इस आत्महत्या का जो कारण सामने आया है, वह भी बेहद दर्द भरा है। बेटे ने इसलिए अपनी जान दे दी क्योंकि वह कर्ज से बुरी तरह डूब चुका था। जिसका प्रभाव परिवार पर पड़ने लगा था। इससे निजात पाने के लिए उसने अपनी जान देना का रास्ता चुना।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

घटना जिले के सहार थाना क्षेत्र से जुड़ा है। बताया गया यहां बजरैया गांव निवासी विमल किशोर सिंह (40) पर भारी भरकम कर्ज था। कर्ज की रकम बढ़ने के बाद मां और शादीशुदा बहन ने अपने-अपने गहने बेचकर लगभग 28 लाख रुपए की मदद की थी, पर यह मदद भी उसके काम न आई. इतनी रकम मिलने के बाद भी वह कर्ज में डूबा था, उसके पास तगादे के फोन लगातार आ रहे थे। आरा में वह विमल किशोर नवादा थाना क्षेत्र के पकड़ी चौक मोहल्ले में सपरिवार रहता था. उसके पिता रिटायर सूबेदार हरिवंश सिंह का निधन हो चुका है।

आरा के एएसपी ने इस वारदात की पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि विमल किशोर नाम के युवक ने गोली मार ली है. परिजनों ने इस मामले की सूचना पुलिस को दी है. घटना के बाद से उसके परिजन काफी सदमे में हैं. एसपी ने कहा कि मामला दर्ज कर लिया गया है और छानबीन की जा रही है. शुरुआती जांच में यह मामला सुसाइड ही लग रहा है।

मृतक की बहन बबीता ने बताया है कि विमल पर कई लाख रुपया कर्ज चढ़ चुका था. कर्ज अधिक हो जाने के कारण बबीता ने कुछ दिन पहले अपने गहने बेचकर विमल को 12 लाख रुपए दिए थे. इसके बावजूद भी वह कहता था कि कर्ज अधिक है.

मां कलावती देवी के मुताबिक, विमल पर लाखों रुपये का कर्जा था. तगादेदारों का फोन लगातार आता रहता था. तब मैंने भी अपने गहने बेचकर विमल को 15 लाख रुपये भी दिए थे. उधार चुकाने के लिए विमल ने अपनी बुलेट भी बेच दी. मगर उसका कर्ज पूरी तरह सध नहीं पाया. मां ने कहा कि उन्होंने परेशान बेटे को समझाने की खूब कोशिश की लेकिन तभी वह उठा और अपनी बंदूक निकाली और मेरे सामने ही खुद के सिर में गोली मार ली।